अमेरिकन लड़की का किसान लड़के पर आया दिल, सात समंदर पार आकर होली के दिन रचाई शादी

ऐसा कहा जाता है कि जब प्यार परवाने चढ़ता है, तो इसे पाने के लिए सात समुद्रों को भी पार किया जा सकता है।

Posted 8 months ago in Other.

User Image
Lakhan tak
89 Friends
2 Views
19 Unique Visitors
ऐसा कहा जाता है कि जब प्यार परवाने चढ़ता है, तो इसे पाने के लिए सात समुद्रों को भी पार किया जा सकता है। ऐसा ही एक मामला मध्य प्रदेश के होशंगाबाद में देखने को मिला, जबप्रेमिका अपने आशिक से मिलने अमेरिका से भारत आ पाहुची। दरअसल, सिवनी मालवा के गाँव बिसौनी की एक किसान दीपक राजपूत (36) से अमेरिका की जेलिका लिजेथ टेराजस उर्फ जूली (40) से फेसबुक पर हुई मुलाक़ात होली के अवसर पर शादी में बदल गई.।जेलि लिजेथ अमेरिका के मानव संसाधन विभाग (HRD) में अधिकारी हैं.दीपक शुरू में अपनी अमेरिकन प्रेमिका से फेसबुक परमिला था फिर धीरे-धीरे व्हाट्सएप पर चैटिंग शुरू हुई और फोन से बातचीत होने लगी।पिछले दो महीने से जेली भारत का भ्रमण कर रही हैं इस दौरान दोनों की मुलाकात कई बार हुई और होली के दिन उन्होंने नर्मदा तट पर स्थित चित्रगुप्त मंदिर में वैदिक रीति-रिवाज से शादी की। इसके बाद जेली और दीपक ने होली खेली, दोनों ने एक दूसरे को रंग से गुलाल लगाया और उन्होंने सात जन्मों तक साथ निभाने की कसम खाई।जेली साउथ अमेरिका का ओवली टोस बोलिविया शहर की रहने वाली है। दीपक, जिसने तीन साल पहले खेती की थी, फेसबुक पर उसका दोस्त बन गया। बीकॉम पास दीपक को अंग्रेजी में बातचीत करना और उसके विचार से जेली बहुत प्रभावित हुई। इसके बाद दोनों के व्हाट्सएप पर चैटिंग शुरू हुई और फिर फोन पर बातचीत शुरू हुई। इसी तरह यह दोस्ती प्यार में बदल गई। दीपक ने शादी करने की इच्छा व्यक्त की और जेली ने स्वीकार किया दीपक ने कहा कि दोनों के परिवार वाले इस शादी से खुश हैंजेली पिछले दो महीनों से भारत के दौरे पर हैं। वह भारतीय संस्कृति और विचारों से बहुत प्रभावित है। वहीं, जेली लिजेथ का मानना ​​है कि भारत बहुत प्यारा देश है। यहां के लोग बहुत अच्छे हैं।

अधिवक्ता आनंद दुबे के अनुसार, 'दीपक मेरे पास आए और मुझसे कहा कि वह दक्षिण अमेरिका की एक युवती से शादी करना चाहते हैं। हमने अदालत से कानूनी दस्तावेज बनाए हैं। इसके बाद, अब उनकी शादी वैदिक रीति-रिवाजों से हुई। ''ऐसा कहा जाता है कि जब प्यार परवाने चढ़ता है, तो इसे पाने के लिए सात समुद्रों को भी पार किया जा सकता है। ऐसा ही एक मामला मध्य प्रदेश के होशंगाबाद में देखने को मिला, जबप्रेमिका अपने आशिक से मिलने अमेरिका से भारत आ पाहुची। दरअसल, सिवनी मालवा के गाँव बिसौनी की एक किसान दीपक राजपूत (36) से अमेरिका की जेलिका लिजेथ टेराजस उर्फ जूली (40) से फेसबुक पर हुई मुलाक़ात होली के अवसर पर शादी में बदल गई.।जेलि लिजेथ अमेरिका के मानव संसाधन विभाग (HRD) में अधिकारी हैं.दीपक शुरू में अपनी अमेरिकन प्रेमिका से फेसबुक परमिला था फिर धीरे-धीरे व्हाट्सएप पर चैटिंग शुरू हुई और फोन से बातचीत होने लगी।पिछले दो महीने से जेली भारत का भ्रमण कर रही हैं इस दौरान दोनों की मुलाकात कई बार हुई और होली के दिन उन्होंने नर्मदा तट पर स्थित चित्रगुप्त मंदिर में वैदिक रीति-रिवाज से शादी की। इसके बाद जेली और दीपक ने होली खेली, दोनों ने एक दूसरे को रंग से गुलाल लगाया और उन्होंने सात जन्मों तक साथ निभाने की कसम खाई।जेली साउथ अमेरिका का ओवली टोस बोलिविया शहर की रहने वाली है। दीपक, जिसने तीन साल पहले खेती की थी, फेसबुक पर उसका दोस्त बन गया। बीकॉम पास दीपक को अंग्रेजी में बातचीत करना और उसके विचार से जेली बहुत प्रभावित हुई। इसके बाद दोनों के व्हाट्सएप पर चैटिंग शुरू हुई और फिर फोन पर बातचीत शुरू हुई। इसी तरह यह दोस्ती प्यार में बदल गई। दीपक ने शादी करने की इच्छा व्यक्त की और जेली ने स्वीकार किया दीपक ने कहा कि दोनों के परिवार वाले इस शादी से खुश हैंजेली पिछले दो महीनों से भारत के दौरे पर हैं। वह भारतीय संस्कृति और विचारों से बहुत प्रभावित है। वहीं, जेली लिजेथ का मानना ​​है कि भारत बहुत प्यारा देश है। यहां के लोग बहुत अच्छे हैं।

अधिवक्ता आनंद दुबे के अनुसार, 'दीपक मेरे पास आए और मुझसे कहा कि वह दक्षिण अमेरिका की एक युवती से शादी करना चाहते हैं। हमने अदालत से कानूनी दस्तावेज बनाए हैं। इसके बाद, अब उनकी शादी वैदिक रीति-रिवाजों से हुई। ''

More Related Blogs

Back To Top