इंटरनेट का पर्याय हो चुके गूगल सर्च इंजन के गूल ट्रेंड्स में भी नरेंद्र की सुनामी रही।

इंटरनेट का पर्याय हो चुके गूगल सर्च इंजन के गूल ट्रेंड्स में भी नरेंद्र की सुनामी रही। लोकसभा चुनाव नतीजों के दिन यानि कि 23 मई को गूगल ट्रेंड्स में राहुल गांधी के मुकाबले नरेंद्र मोदी कहीं ज्यादा सर्च किए गए। हैरत की बात तो यह भी है कि भारत ही नहीं, दुनिया भर में नरेंद्र मोदी को राहुल गांधी से ज्या

Posted 5 months ago in News and Politics.

User Image
Shubhashish Sharma
76 Friends
1 Views
1 Unique Visitors
इंटरनेट का पर्याय हो चुके गूगल सर्च इंजन के गूल ट्रेंड्स में भी नरेंद्र की सुनामी रही। लोकसभा चुनाव नतीजों के दिन यानि कि 23 मई को गूगल ट्रेंड्स में राहुल गांधी के मुकाबले नरेंद्र मोदी कहीं ज्यादा सर्च किए गए। हैरत की बात तो यह भी है कि भारत ही नहीं, दुनिया भर में नरेंद्र मोदी को राहुल गांधी से ज्यादा सर्च किया गया और उसमें भी सबसे चौंकाने की बात यह है कि पड़ोंसी मुल्क पाकिस्तान में भी गूगल ट्रेंड्स की बाजी में नरेंद्र मोदी राहुल गांधी से जीत गए।


चुनाव नतीजों के दिन गूगल ट्रेंड्स के आंकड़ों के मुताबिक भारत में अग्रेजी में Narendra Modi कीवर्ड के साथ मोदी कुल 47 फीसदी सर्च किए गए तो वहीं राहुल गांधी को Rahul Gandhi कीवर्ड के साथ 14 फीसदी लोगों ने सर्च किया। इस दिन नरेंद्र मोदी को सर्च किए जाने का ग्राफ दिन की शुरुआत यानि रात के 12 बजे से लेकर ही चढ़ा रहा।

वहीं, वर्ल्डवाइड भी नरेंद्र मोदी बाजी मार गए। आंकड़ों के मुताबिक, दुनिया में गूगल पर 54 फीसदी लोगों ने नरेंद्र मोदी को सर्च किया तो वहीं, राहुल गांधी को महज 18 फीसदी लोगों ने सर्च किया।

पाकिस्तान में 24 फीसदी लोगों ने नरेंद्र मोदी को सर्च किया तो वहीं, 9 फीसदी लोगों ने राहुल गांधी को सर्च किया।

अमेरिका में हालांकि राहुल गांधी मोदी को टक्कर देते दिखे। दिन का एक ऐसा वक्त भी आया जब राहुल गांधी के सर्च रिजल्ट मोदी से ज्यादा थे। अमेरिका में 1:22 बजे 93 फीसदी लोग राहुल गंधी को सर्च कर रहे थे तो नरेंद्र मोदी 83 फीसदी। आखिर में बाजी मोदी ने ही मारी। अमेरिका में 23 मई को नरेंद्र मोदी को 41 फीसदी और राहुल गांधी को 32 फीसदी लोगों ने सर्च किया।

ब्रिटेन में गूगल पर नरेंद्र मोदी को 45 फीसदी लोगों ने सर्च किया तो राहुल गांधी को सर्च करने वालों की तादाद 26 फीसदी रही।

बता दें कि 17वीं लोकसभा के लिए हुए चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने अकेले दम पर बहुमत से ज्यादा 303 सीटें जीती हैं और उसकी अगुवाई वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) ने 352 सीटों पर जीत दर्ज की है। बीजेपी की प्रचंड जीत कई एग्जिट पोल्स की भविष्यवाणी के मुताबिक ही हुई है। समूचा विपक्ष और जनता एक सुर में यह सच स्वीकार रही है कि बीजेपी और एनडीए की इस प्रचंज जीत का कारण अमित शाह और नरेंद्र मोदी जोड़ी और बतौर पीएम कैंडिडेट मोदी ही रहे हैं। ऐसे में उनका ज्यादा सर्च किया जाना कोई हैरत की बात नहीं है।

More Related Blogs

Article Picture
Shubhashish Sharma 6 months ago 2 Views
Article Picture
Shubhashish Sharma 7 months ago 6 Views
Article Picture
Shubhashish Sharma 7 months ago 26 Views
Back To Top