ऐथलेटिक्स में अरपिंदर और स्वप्ना ने दिलाए भारत को गोल्ड मेडल

18वें एशियाई खेलों के 11वें दिन भारत के अरपिंदर सिंह ने पुरुषों की तिहरी कूद में गोल्ड मेडल जीता है

Posted 11 months ago in Other.

User Image
deepika mandloi
937 Friends
7 Views
37 Unique Visitors
18वें एशियाई खेलों के 11वें दिन भारत के अरपिंदर सिंह ने पुरुषों की तिहरी कूद में गोल्ड मेडल जीता है। अरपिंदर की तीसरी कूद (16.77 मीटर) उन्हें गोल्ड मेडल जितवाने के लिए काफी रहा। उज्बेकिस्तान के रसलान कुरबानोव (16.62मीटर) ने सिल्वर और चीन के शुओ काओ (16.56मीटर) ने ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा जमाया।जकार्ता  18वें एशियाई खेलों में 11वां दिन भारत के लिए खुशियों भरा रहा। ट्रैक ऐंड फील्ड इवेंट में भारत ने एक के बाद एक लगातार 2 गोल्ड मेडल जीते। पहला गोल्ड पंजाब के ऐथलीट अरपिंदर सिंह ने ट्रिपल जंप में जीता। इसके बाद महिला हेप्टैथलॉन में स्वप्ना बर्मन ने कमाल का प्रदर्शन करते देश को 11वां गोल्ड मेडल दिला दिया। पंजाब के अमृतसर के रहने वाले अरपिंदर की तीसरी कूद (16.77 मीटर) उन्हें गोल्ड मेडल जितवाने के लिए काफी रही। उज्बेकिस्तान के रसलान कुरबानोव (16.62मीटर) ने सिल्वर और चीन के शुओ काओ (16.56मीटर) ने ब्रॉन्ज मेडल पर कब्जा जमाया। ( पढ़ें, स्वप्ना ने ऐसे ट्रिपल जंप में भारत के ही दूसरे खिलाड़ी राकेश बाबू छठे स्थान पर रहे। भारत ने एशियन गेम्स के तिहरी कूद में 48 साल बाद कोई स्वर्ण पदक जीता है। इससे पहले महिंदर सिंह ने 1970 के एशियन गेम्स में गोल्ड मेडल जीता था।  स्वप्ना ने रचा इतिहास स्वप्ना बर्मन ने ऐथलेटिक्स में देश को पांचवां गोल्ड मेडल दिलवाया है। इन एशियाई खेलों में यह भारत का 11वां गोल्ड और कुल 54 मेडल है। भारत की ही पूर्णिमा हेम्बराम चौथे स्थान पर रहीं। दो दिन लंबे इस इवेंट में 21 वर्षीय पूर्णिमा ने चोटी पर अपनी पकड़ बनाए रखी। वह लगातार चोटी पर बनी हुई थी। हैप्टेथलॉन के आखिरी इवेंट, 800 मीटर, दौड़ में उन्होंने 2:21.13 मिनट का समय लिया और 803 अंक अर्जित किया। यह उन्हें गोल्ड जितवाने के लिए काफी था। 

More Related Blogs

Article Picture
deepika mandloi 1 year ago 3 Views
Back To Top