कब्र से आ रही थी अजीब आवाज

37 वर्षीय Rosangela Almeida नाम की महिला को उसके परिवार वालो ने चक्कर आने की वजह से अस्पताल में भर्ती करवाया था. करीब एक हफ्ते तक उसका इलाज चला जिसके बाद डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया और डेड बॉडी परिवार वालो को सौंप दी.

Posted 4 months ago in Other.

User Image
Deepak lovewanshi
168 Friends
1 Views
8 Unique Visitors
कई बार डॉक्टर्स की लापरवाही के चलते कई मरीजों की जान चली जाती हैं. ऐसा ही कुछ ब्राजील में रहने वाली एक महिला के साथ भी हुआ. 37 वर्षीय Rosangela Almeida नाम की महिला को उसके परिवार वालो ने चक्कर आने की वजह से अस्पताल में भर्ती करवाया था. करीब एक हफ्ते तक उसका इलाज चला जिसके बाद डॉक्टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया और डेड बॉडी परिवार वालो को सौंप दी.Rosangela Almeida के डेथ सर्टिफिकेट के अनुसार उसकी मौत 28 जनवरी को दिल का दौरा पड़ने की वजह से हो गई थी. इसके ठीक एक दिन बाद उसके परिवार वालो ने उसकी बॉडी को पुरे रीती रिवाजो के साथ कब्रिस्तान में दफ़न कर दिया था.
इस घटना के ठीक 11 दिन बाद 9 फ़रवरी 2018 को उस कब्रिस्तान के पास रहने वाले लोगो को वहां से किसी की चीखने चिल्लाने की आवाजें सुनाई दे रही थी. वहीँ पास में रहने वाली एक निवासी Natalina Silva के अनुसार “यहाँ आस पास रहने वाले कई लोगो को कब्र के अन्दर से किसी की दबी हुई चीखने की आवाजे आ रही थी. जब मैंने उस जगह पर जाकर देखा तो अन्दर से किसी के ताबूत को ठोकने की आवाज आने लगी. पहले तो मुझे लगा कि कोई मेरे साथ मजाक कर रहा हैं. लेकिन बाद में मुझे अन्दर से दो बार किसी के रोने की आवाज सुनाई दी. हालाँकि बाद में वो आवाज अचानक रुक गई.’आवाज सुनने के बाद वहां के लोगो ने महिला के परिवार को इसकी सुचना दी जिसके बाद वो लोग कब्र पर पहुंचे और उसे खोदना शुरू किया. लेकिन जब कब्र में में ताबूत बाहर निकाला तो बहुत देर हो चुकी थी. महिला की दम घुटने की वजह से मौत हो गई थी. ताबूत पर लोगो को स्क्रेच और खून के कई निशान मिले. इससे ये अंदाजा लगाया जा रहा हैं कि महिला ने खुद को कब्र से बाहर निकालने के लिए बहुत कोशिशें की होगी. जरा सोचिए ये महिला पिछले 11 दिनों से खुद को कब्र से बाहर निकालने की कोशिश कर रही थी लेकिन दुर्भाग्यवश वो सफल नहीं हो सकी. जब ताबूत खोला गया तो उसके अन्दर की डेड बॉडी गर्म भी थी. हालाँकि महिला के मृत हो जाने की वजह से उसे परिवार के लोगो ने फिर से दफना दिया
.
घटना के ठीक 11 दिन बाद 9 फ़रवरी 2018 को उस कब्रिस्तान के पास रहने वाले लोगो को वहां से किसी की चीखने चिल्लाने की आवाजें सुनाई दे रही थी. वहीँ पास में रहने वाली एक निवासी Natalina Silva के अनुसार “यहाँ आस पास रहने वाले कई लोगो को कब्र के अन्दर से किसी की दबी हुई चीखने की आवाजे आ रही थी. जब मैंने उस जगह पर जाकर देखा तो अन्दर से किसी के ताबूत को ठोकने की आवाज आने लगी. पहले तो मुझे लगा कि कोई मेरे साथ मजाक कर रहा हैं. लेकिन बाद में मुझे अन्दर से दो बार किसी के रोने की आवाज सुनाई दी. हालाँकि बाद में वो आवाज अचानक रुक गई.’
आवाज सुनने के बाद वहां के लोगो ने महिला के परिवार को इसकी सुचना दी जिसके बाद वो लोग कब्र पर पहुंचे और उसे खोदना शुरू किया. लेकिन जब कब्र में में ताबूत बाहर निकाला तो बहुत देर हो चुकी थी. महिला की दम घुटने की वजह से मौत हो गई थी. ताबूत पर लोगो को स्क्रेच और खून के कई निशान मिले. इससे ये अंदाजा लगाया जा रहा हैं कि महिला ने खुद को कब्र से बाहर निकालने के लिए बहुत कोशिशें की होगी. जरा सोचिए ये महिला पिछले 11 दिनों से खुद को कब्र से बाहर निकालने की कोशिश कर रही थी लेकिन दुर्भाग्यवश वो सफल नहीं हो सकी. जब ताबूत खोला गया तो उसके अन्दर की डेड बॉडी गर्म भी थी. हालाँकि महिला के मृत हो जाने की वजह से उसे परिवार के लोगो ने फिर से दफना दिया.

More Related Blogs

Back To Top