किसान सेवा के बारे में

किसान एसएमएस पोर्टल के साथ सेवाओं के एकीकरण

Posted 5 months ago in Natural.

User Image
ram joshi
50 Friends
1 Views
1 Unique Visitors
किसानों के लिए एसएमएस पोर्टल का भारत के माननीय राष्ट्रपति द्वारा 16 जुलाई, 2013 को उद्घाटन किया गया I आज तक, इससे 152 करोड़ से अधिक एसएमएस कृषि और संबद्ध क्षेत्र में विभिन्न विभागों / भारत सरकार के संगठनों और राज्य सरकारों द्वारा किसानों के लिए भेजे जा चुके हैं I अब तक इन संदेशों को ७० लाख किसानों के स्थान और कृषि एवं संबद्ध क्षेत्र में फसलों या प्रथाओं के चयन के आधार पर भेजने के लिये शामिल किया गया है ।


विभिन्न राज्यों में और भारत सरकार के संगठनों / विभागों द्वारा किसानों को एक बड़ी संख्या में वेब आधारित सेवाएं दी जा रही हैं I मृदा स्वास्थ्य कार्ड, कृषि के लिये रियायती आदान और कीट / बीमारियों आदि के विश्लेषण के प्रावधान इत्यादि इनमें से कुछ हैं I ऐसी ही कुछ और सेवाएं कृषि के लिये राष्ट्रीय ई योजना के तहत भी बनाई जा रही हैं ।
अब तक, मौजूदा सेवाओं के परिणाम इंटरनेट के माध्यम से या एक मुद्रित दस्तावेज़ के रूप में किसान को उपलब्ध करवाये जाते हैं I ग्रामीण क्षेत्रों में काफी कम इंटरनेट उपलब्द्ता के कारण किसानों को व्यक्तिगत रूप से कार्यालयों का दौरा करना पड़ता है या इन रिपोर्टों को उन्हें डाक द्वारा भेजा जाता है I इसमें देरी और खर्च बड़ता है I ग्रामीण क्षेत्रों में मोबाइल टेलीफोन की गहरी पैठ को देखते हुए, एसएमएस इस कार्य के लिये सबसे प्रभावी तरीका है I हालांकि यह कुछ मामलों में इस्तेमाल किया जा रहा है लेकिन निजी क्षेत्र के माध्यम से होने के कारण इन संदेशों को भेजने में भारी खर्च होता है ।

जैसे की अधिकांश सेवाएं वेब आधारित हैं, किसानों के मोबाइल फोन पर विभिन्न सेवाओं के परिणाम / रिपोर्ट इत्यादि भेजने के लिये एक 6 अंकों का शार्ट कोड “कृषि” विकसित किया गया हैI सभी सेवाएं आसानी से मौजूदा राष्ट्रीय किसान एसएमएस पोर्टल के साथ एकीकृत की जा सकती हैं I इस के साथ सभी एसएमएस, संबंधित विभागों द्वारा किसानों के लिए मुफ्त भेजे जा सकते हैं I यह सन्देश राज्यों और केन्द्र सरकार और उनके अनुप्रयोगों के विभिन्न ऑनलाइन सेवाओं के माध्यम से हो रहे इलेक्ट्रॉनिक सेवाओं में भी गिने जाते हैं, जो भारत सरकार के सूचना और प्रौद्योगिकी विभाग के ई ताल पोर्टल में भी देखे जा सकते हैं I

सभी राज्य सरकारें और अन्य विभाग एक प्रभावशाली और व्यापक तरीके से सेवाएं प्रदान करने के लिए KSeva का उपयोग शुरू कर सकते हैं I किसान एसएमएस पोर्टल के साथ सेवा को जोड़ने की पद्धति का विवरण नीचे दिया गया है:

More Related Blogs

Article Picture
ram joshi 6 months ago 0 Views
Article Picture
ram joshi 6 months ago 0 Views
Back To Top