तेज आंधी के बाद बदला मौसम का मिजाज, ठंडी हवाओं ने दी गर्मी से राहत

जागरण संवाददाता, जालंधर। सोमवार रात को अचानक चली तेज आंधी के बाद मंगलवार को शहर का मौसम सुहावना बना हुआ है।

Posted 6 months ago in Other.

User Image
suresh machar
69 Friends
5 Views
61 Unique Visitors
मौसम की इस करवट से गर्मी का सामना कर रहे शहरवासियों ने राहत की सांस ली है। सोमवार को दिन ढलते ही मौसम का मिजाज बदल गया। हालांकि, अचानक चली तेज आंधी से जनजीवन अस्तव्यस्त हो गया और धूल मिट्टी से लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। पूरे महानगर की लाइट गुल होने से जालंधर में ब्लैकआउट जैसी स्थिति बन गई।

लाइट जाने से भगत सिंह कालोनी, गुरु अमरदास नगर, कालिया कालोनी, टैगोर नगर, कृष्णा नगर, आदर्श नगर, हरबंस नगर, ग्रेटर कैलाश, फोकल प्वाइंट, किशनपुरा, लाडोवाली रोड, किशनपुरा चौक, गुरुनानकपुरा, कालिया कालोनी एक्सटेंशन, सेठ हुकम चंद कालोनी, मॉडल हाउस, गुरु अर्जन देव नगर, इंकम टैक्स कालोनी, अर्बन एस्टेट 2, अर्बन एस्टेट 1, संजय गांधी नगर, करतार नगर, दशमेश नगर, मॉडल टाउन, गुरु तेग बहादुर नगर, न्यू गुरु तेग बहादुर नगर, बस्तियात इलाका, आबादपुरा, भार्गव कैंप, मॉडल हाउस, गुरु अर्जुन देव नगर, बूटा मंडी, वडाला चौक व आसपास का इलाका अंधेरे में डूब गया।

दरअसल, संक्रांति वाले दिन 14 अप्रैल को दिन भर मौसम गर्म रहने के बाद रात को हल्की हवाओं ने संकेत दे दिया था। वहीं, सोमवार को दिन ढलते ही चली तेज हवाओं व आंधी से मौसम का मिजाज बदल गया। 14 किलोमीटर की रफ्तार से चली हवाओं से दिन में 36 डिग्री सेल्सियस तापमान गिरकर 27 डिग्री रह गया। वहीं मौसम विभाग के मुताबिक मंगलवार व बुधवार को बूंदाबांदी के आसार है। इसी तरह आसमान में बादल छाए रहेंगे।

35 मिनट अंधेरे में डूबा रहा सिविल अस्पताल
सोमवार रात को तेज आंधी के चलते सिविल अस्पताल 35 मिनट अंधेरे में डूबा रहा। इस दौरान डॉक्टरों व नर्सिंग स्टाफ ने मोबाइल की टॉर्च के साथ मरीजों का इलाज किया। वार्डों में भी घोर अंधेरा छाया रहा और मरीजों के परिजन बरामदे में आकर बैठ गए थे। मौके पर तैनात डॉक्टर राकेश चोपड़ा की ओर से टेलीफोन करने के बाद जनरेटर ऑपरेटर पहुंचा और जनेटर चलने से द्वारा अस्पताल रोशन हुआ।

Posted By: Sat Paul

0

Jagran.com
+ फॉलो करें
रेकेमेंडेड लेख
बांसवाड़ा में ब्राह्मण सम्मेलन और सम्मान समारोह 5 मई को
प्रखंड मुख्यालय में शुद्ध पानी भी आमलोगों को मयस्सर नहीं
नहर के समानांतर सड़क बनने में देरी
लेटेस्ट कमैंट्स
हम आपके कमैंट्स का इंतज़ार कर रहें हैं

More Related Blogs

Back To Top