नईदुनिया सैनिक सम्‍मान

शहर के कोबरा ग्राउंड में गुरुवार को अद्भुत नजारा देखने को मिला। जवानों के साहस, उनके जज्बे और परिजन की संवेदनाओं का मिलन हुआ। यह अवसर था नईदुनिया सैनिक सम्मान-2019 का।

Posted 5 months ago in People and Nations.

User Image
Deepak lovewanshi
168 Friends
3 Views
7 Unique Visitors
शहर के कोबरा ग्राउंड में गुरुवार को अद्भुत नजारा देखने को मिला। जवानों के साहस, उनके जज्बे और परिजन की संवेदनाओं का मिलन हुआ। यह अवसर था नईदुनिया सैनिक सम्मान-2019 का। नईदुनिया ने अपने वीर सपूतों के सम्मान के साथ ही पत्रकारिता का राष्ट्रधर्म भी निभाया। समारोह की शुरुआत जीओसी एमबी एरिया लेफ्टिनेंट जनरल राजेश राणा वीएसएम की पत्नी गीता कुशवाहा, आवा की जोनल प्रेसिडेंट सुषमा राणा ने दीप प्रज्ज्वलित कर की।
जम्मू एंड कश्मीर राइफल्स रेजीमेंटल सेंटर के बैंड के साथ मध्य प्रदेश लाड़ो अभियान की ब्रांड एंबेसडर सारेगामपा विनर इशिता विश्वकर्मा ने 'ए मेरे वतन के लोगों तो उनकी मां तेजल विश्वकर्मा ने 'मेरा कर्मा तू गीत के साथ पूरे वातावरण में राष्ट्रप्रेम की ऊर्जा भर दी।कार्यक्रम में शहीद की एक वीर नारी और 22 वीर जवानों और उनके परिजन को सम्मानित किया गया। इस दौरान जीओसी एमबी एरिया लेफ्टिनेंट जनरल राजेश राणा वीएसएम, कमांडेंट सीएमएम लेफ्टिनेंट जनरल आरकेएस कुशवाहा, जैक कमांडेंट व स्टेशन सेल कमांडेंट बिग्रेडियर राजेश नेगी, सीमा नेगी, आरपीएफ डीआईजी कंचन चरन, जवाहरलाल नेहरू कृषि विवि के कुलपति डॉ. प्रदीप बिसेन, वेटरनरी विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. पीडी जुयाल, नईदुनिया के सीईओ संजय शुक्ला, नईदुनिया एमपी-सीजी के ऑपरेशनल हेड नरेश पांडे मौजूद रहे। संपादक (मध्यप्रदेश) आशीष व्यास ने नईदुनिया सैनिक सम्मान के आयोजन की रूपरेखा पर प्रकाश डाला। मंच का संचालन लेफ्टिनेंट कर्नल अनुपम हजेला व उनकी पत्नी छाया हजेला ने किया।इशिता विश्वकर्मा ने 'ए मेरे वतन के लोगों गीत सुनाना शुरू किया, सीमा नेगी की आंखें भर आईं। कार्यक्रम में मौजूद कई अन्य फौजियों की आंखें भी वीर सैनिकों की याद में भीग गईं।
वीर नारी सुनीता सिंह का सम्मान किया गया। उनके पति रमेश कुमार सिंह ने देश की रक्षा के लिए ऑपरेशन मेधदूत के तहत अपने प्राणों की आहुति दे दी थी।
वीर चक्र हासिल करने वाले मेजर जनरल स्व.छज्जूराम की पुत्रवधू अभिलाषा सिंघल ने नईदुनिया सैनिक सम्मान ग्रहण किया।एयर वाइस मार्शल दयाशंकर मिश्रा (91) को अतिथियों ने उनकी कुर्सी के समीप जाकर नईदुनिया सैनिक सम्मान से अलंकृत किया। मिश्रा वायुसेना मेडल के अलावा परम विशिष्ठ सेवा मेडल व अतिविशिष्ठ सेवा मेडल से अलंकृत हो चुके हैं।

More Related Blogs

Back To Top