निरहुआ के भाई विजय लाल यादव अखिलेश यादव के लिये आजमगढ़ में मांग रहे हैं वोट, दिया ये बयान

2014 के बाद एक बार फिर 2019 के लोकसभा चुनाव में भी पूर्वांचल की वाराणसी और आजमगढ़ सीट सबसे हाई प्रोफाइल सीट बनी हुई है।

Posted 8 months ago in Other.

User Image
Rahul Prajapat
34 Friends
9 Views
346 Unique Visitors
आजमगढ़. 2014 के बाद एक बार फिर 2019 के लोकसभा चुनाव में भी पूर्वांचल की वाराणसी और आजमगढ़ सीट सबसे हाई प्रोफाइल सीट बनी हुई है। जहां बनारस से मोदी फिर मैदान में आ रहे हैं वहीं इस बार आजमगढ़ से मुलायम सिंह यादव की जगह पूर्व मुख्यमंत्री और सपा मुखिया अखिलेश यादव लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं। आजमगढ़ सीट की लड़ाई को बीजेपी ने भोजपुरी फिल्म स्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ को पत्याशी बनाकर और दिलचस्प बना दिया है। कहा जा रहा है कि निरहुआ के आने से यहां कांटे की टक्कर हो गयी है। यहां की लड़ाई इसलिये भी दिलचस्प होगी कि बीजेपी प्रत्याशी निरहुआ के भाई विजय लाल यादव उन्हीं के खिलाफ अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी के लिये वोट मांग रहे हैं। अखिलेश ने निरहुआ से मुकाबले के लिये उन्हीं के चचेरे भाई विजय को आजमगढ़ में प्रचार-प्रसार की जिम्मेदारी दी है। विजय लाल यादव आजमगढ़ पहुंचकर चुनाव प्रचार में जुट चुके हैं।

विजय लाल यादव अखिलेश सरकार में दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री भी रहे हैं IMAGE CREDIT:
कौन हैं विजय लाल यादव
विजय लाल यादव निरहुआ के वही चचेरे भाई हैं, जिनकी प्रेरणा से दिनेश लाल यादव निरहुआ आज भोजपुरी सिनेमा में सुपर स्टार बने हुए हैं। विजय लाल यादव काफी समय से काफी समय से लोक गायकी से जुड़े हुए हैं और वह बिरहा गायकी में जाना माना नाम हैं। उन्हें मुलायम सिंह यादव भी अपने हाथ से सम्मानित कर चुके हैं। इसके अलावा विजय लाल यादव समाजवादी पार्टी से भी लम्बे समय से जुड़े हैं। मुख्यमंत्री रहते हुए अखिलेश यादव ने विजय लाल यादव को दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री भी बनाया। वो समाजवादी पार्टी के लिये प्रचार भी करते रहे हैं और उसके मंच पर भी नजर आते रहे हैं। समाजवादी पार्टी के प्रचार-प्रसार के लिये कई चर्चित बिरहा गा चुके हैं। मोदी सरकार पर सवाल उठाते और तंज करते उनका बिरहा खूब सुना भी जाता है।

विजय लाल यादव निरहुआ के चचेरे भाई हैं IMAGE CREDIT:
विजय लाल यादव बोले, निरहुआ को आशीर्वाद, लेकिन समर्थन अखिलेश को
विजय लाल यादव ने पत्रिका से फोन पर बातचीत के दौरान बताया कि उन्हें आजमगढ़ में अखिलेश यादव के चुनाव प्रचार की जिम्मेदारी दी गयी है। उन्होंने आजमगढ़ पहुंचकर चुनाव प्रचार शुरू भी कर दिया है। कहा कि निरहुआ को मेरा आशीर्वाद है और आशीर्वाद तो परिवार के हर सदस्य का होता ही है। पर मैं समाजवादी पार्टी का सच्चा सिपाही हूं तो इस नाते समर्थन मेरा सपा और अखिलेश यादव के साथ है। कहा कि वो आजमगढ़ में ही रुककर सपा के चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं।

निरहुआ ने आजमगढ़ में भव्य रोड शो निकाला, जिसमें हजारों लोग शामिल रहे IMAGE CREDIT:
निरहुआ ने किया रोड शो कर आजमगढ़ में दिखायी ताकत
बीजेपी से टिकट मिलने के बाद आठ अप्रैल को दिनेश लाल यादव निरहुआ ने आजमगढ़ में अपने चुनाव प्रचार की शुरुआत अपने गाजीपुर स्थित पैतृक घर से पूजा-पाठ के साथ किया। सैकड़ों गाड़ियों का काफिला लेकर आजमगढ़ पहुंचे निरहुआ को देखने के लिये हजारों लोगों की भीड़ उमड़ी। इस दौरान जब निरहुआ का काफिला आजमगढ़ के तरवां क्षेत्र के भितरी गांव के पास पहुंचा तो वहां निरहुआ का विरोध हुआ और इस दौरान पथराव भी किया गया। इसके बाद पुलिस ने वहां लाठियां पटकीं और हल्का बल प्रयोग किया जिसके बाद जाकर कड़ी सुरक्षा में वहां से निरहुआ के काफिले को निकाला जा सका। इस मामले में तरवां थाने में भितरी गांव के पूर्व प्रधान राजेश यादव, राजेश, मुकेश, समेत चार लोगों के खिलाफ नामजद औ 50 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया।

More Related Blogs