प्रभात पट्टन ब्लॉक ग्राम रगड़गॉव की बेटी बैतुल जिले का नाम रोशन कर सकती है।

खेल मेंं गरीबी को नहीं आने दिया आढ़े

By: Ghanshyam Rathore

Updated On: Apr, 05 2019 10:00 PM IST









BETUL, BETUL, MADHYA PRADESH, INDIA



प्रभातपट्टन ब्लॉक के ग्राम रगडग़ांव की एक बेटी ने प्रतिभा के दम पर अपना लोहा मनवा दिया है। आर्थिक स्थिति इतनी दयनीय है कि दौड़ के अभ्यास के लिए अपने

Posted 6 months ago in News and Politics.

User Image
san pan
92 Friends
15 Views
51 Unique Visitors
खेल मेंं गरीबी को नहीं आने दिया आढ़े

By: Ghanshyam Rathore

Updated On: Apr, 05 2019 10:00 PM IST









BETUL, BETUL, MADHYA PRADESH, INDIA



प्रभातपट्टन ब्लॉक के ग्राम रगडग़ांव की एक बेटी ने प्रतिभा के दम पर अपना लोहा मनवा दिया है। आर्थिक स्थिति इतनी दयनीय है कि दौड़ के अभ्यास के लिए अपने पैंसों से शूज तक नहीं खरीद सकती है।

बैतूल। प्रभातपट्टन ब्लॉक के ग्राम रगडग़ांव की एक बेटी ने प्रतिभा के दम पर अपना लोहा मनवा दिया है। आर्थिक स्थिति इतनी दयनीय है कि दौड़ के अभ्यास के लिए अपने पैंसों से शूज तक नहीं खरीद सकती है। इसके बाद भी जिले का नाम राज्य स्तर तक किया है। खिलाड़ी की मेहनत को देखते हुए अधिकारी भी अब यह नहीं कहने से चूकते हैं,इस बेटी लगन और मेहनत देखकर लगता है कि एक दिन यह जिले का नाम जरुर रोशन करेगी। 
्रजिला खेल एवं युवा कल्याण विभाग अधिकारी मनु धुर्वे ने बताया कि छात्रा संगीता पिता मुन्ना उइके का विपरित परिस्थिति के बावजूद खेल के प्रति लगन और मेहनत देखते ही बनती है। छात्रा की आर्थिक स्थिति इतनी खराब है कि उसके पास दौड़ के अभ्यास के लिए शूज तक नहीं है। बिना शूज के ही वह अभ्यास करती है। पिछले दिनों जिला स्तर पर हुई स्पर्धा में छात्रा बिना शूज के ही दौड़ में शामिल हुई थी। जिसके बाद हमारे द्वारा उसकी शूज की व्यवस्था की थी। छात्रा भोपाल में हुई राज्य स्तरीय मुख्यमंत्री कप स्पर्धा में भोपाल में शामिल हुई थी। छात्रा का स्पर्धा में बेहतर प्रदर्शन रहा था। छात्रा को लोगों का सहयोग मिलता है तो यह जिले का नाम रोशन कर सकती है। छात्रा में खेल के प्रति लगन है। 
पिता सोसाइटी में हैं चपरासी 
संगीता उइके प्रभातपट्टन ब्लॉक के ग्राम रगडग़ांव निवासी है। ग्राम गेहंूबारसा में कक्षा दसवी की छात्रा है। छात्रा अपने गांव में ही अभ्यास करती है। छात्रा के पिता मुन्ना उइके की आर्थिक हालत खराब है। मुन्ना के दो बेटी और दो बेटे हंैं,जिसमें से संगीता एक है। मुन्ना उइके गांव की सोसाइटी में चपरासी है।
Tags: #lookchup,

More Related Blogs

Article Picture
san pan 7 months ago 3 Views
Article Picture
san pan 7 months ago 2 Views
Article Picture
san pan 7 months ago 3 Views
Article Picture
san pan 7 months ago 3 Views
Article Picture
san pan 7 months ago 6 Views
Article Picture
san pan 7 months ago 5 Views
Article Picture
san pan 7 months ago 4 Views
Article Picture
san pan 7 months ago 4 Views
Article Picture
san pan 7 months ago 1 Views
Article Picture
san pan 7 months ago 2 Views
Article Picture
san pan 7 months ago 1 Views
Article Picture
san pan 8 months ago 2 Views
Article Picture
san pan 8 months ago 11 Views
Article Picture
san pan 8 months ago 2 Views
Article Picture
san pan 8 months ago 17 Views
Article Picture
san pan 8 months ago 6 Views
Article Picture
san pan 8 months ago 2 Views
Article Picture
san pan 9 months ago 5 Views
Article Picture
san pan 9 months ago 4 Views
Article Picture
san pan 9 months ago 6 Views
Article Picture
san pan 9 months ago 4 Views
Back To Top