बिल गेट्स की सफलता की कहानी

आज हम फिर एक बार आपके समक्ष एक ऐसे मनुष्य की जीवनी (Biography) लेकर प्रस्तुत हैं जिन्होंने अपने जीवन में अपनी कड़ी मेहन

Posted 8 months ago in Other.

User Image
Ajay ahirwar
291 Friends
2 Views
12 Unique Visitors
उनके माता – पिता उनके लिए क़ानून में करियर बनाने का स्वप्न लेकर बैठे थे परन्तु उन्हें बचपन से ही कंप्यूटर विज्ञान तथा उसकी प्रोग्रामिंग भाषाओं में रूचि थी | उनकी प्रारंभिक शिक्षा लेकसाइड स्कूल में हुई | जब वह आठवीं कक्षा के छात्र थे तब उनके विद्यालय ने  ऐएसआर – 33 दूरटंकण टर्मिनल तथा जनरल इलेक्ट्रिक (जी.ई.) कंप्यूटर पर एक कंप्यूटर प्रोग्राम खरीदा जिसमें गेट्स ने रूचि दिखाई | तत्पश्चात मात्र तेरह वर्ष की आयु में उन्होंने अपना पहला कंप्यूटर प्रोग्राम लिखा जिसका नाम “टिक-टैक-टो” (tic-tac-toe) तथा इसका प्रयोग कंप्यूटर से खेल खेलने हेतु किया जाता था | Bill Gates इस मशीन से बहुत अधिक प्रभावित थे तथा जानने को उत्सुक थे कि यह Software Codes किस प्रकार कार्य करते हैं | इसके पश्चात गेट्स डीईसी (DEC), पीडीपी (PDP), मिनी कंप्यूटर (Mini Computer) नामक सिस्टमों में दिलचस्पी दिखाते रहे, परन्तु उन्हें कंप्यूटर सेंटर कॉरपोरेशन द्वारा ऑपरेटिंग सिस्टम में हो रही खामियों के लिए 1 महीने तक प्रतिबंधित कर दिया गया | इसी समय के दौरान उन्होंने अपने मित्रों के साथ मिलकर सीसीसी के Software में हो रही कमियों को दूर कर लोगों को प्रभावित किया तथा उसके पश्चात वह सीसीसी के कार्यालय में निरंतर जाकर विभिन्न प्रोग्रामों के लिए सोर्स कोड का अध्ययन करते रहे और यह सिलसिला 1970 तक चलता रहा | इसके पश्चात इन्फोर्मेशन साइंसेस आइएनसी. लेकसाइड के चार छात्रों को जिनमें Bill Gates भी शामिल थे, कंप्यूटर समय एवं रॉयल्टी उपलब्ध कराकर कोबोल (COBOL), पर एक पेरोल प्रोग्राम लिखने के लिए किराए पर रख लिया। इसके पश्चात उन्हें रोकना नामुमकिन था | मात्र 17 वर्ष कि उम्र में उन्होंने अपने मित्र एलन के साथ मिलकर ट्राफ़- ओ- डाटा नामक एक उपक्रम बनाया जो इंटेल 8008 प्रोसेसर (Intel 8008 Processor) पर आधारित  यातायात काउनटर (Traffic Counter) बनाने के लिए प्रयोग में लाया गया | 1973 में वह लेकसाइड स्कूल से पास हुए तथा उसके पश्चात बहु- प्रचलित  हारवर्ड कॉलेज (Harvard College) में उनका दाखिला हुआ | परन्तु उन्होंने 1975 में ही बिना स्नातक किए वहाँ से विदा ले ली जिसका कारण था उस समय उनके जीवन में दिशा का अभाव | उसके पश्चात उन्होंने Intel 8080 चिप बनाया तथा यह उस समय का व्यक्तिगत कंप्यूटर (Personal Computer) के अन्दर चलने वाला सबसे वहनयोग्य चिप था, जिसके पश्चात बिल गेट्स को यह एहसास हुआ कि समय द्वारा दिया गया यह सबसे उत्तम अवसर है जब उन्हें अपनी स्वयं कि Company का आरम्भ करना चाहिए | माइक्रोसॉफ्ट कंपनी का उत्थान (The rise of Microsoft Company) MITS (Micro Instrumentation and Telemetry Systems) जिन्होंने एक माइक्रो कंप्यूटर का निर्माण किया था, उन्होंने गेट्स को एक प्रदर्शनी में उपस्थित होने कि सहमती दी तथा गेट्स ने उनके लिए अलटेयर एमुलेटर (Emulator) निर्मित किया जो Mini Computer और बाद में इंटरप्रेटर में सक्रिय रूप से कार्य करने लगा | इसके बाद Bill Gates व् उनके साथी को MITS के अल्बुकर्क स्थित कार्यालय में काम करने कि अनुमति दी गयी | उन्होंने अपनी जोड़ी का नाम Micro-Softरखा तथा अपने पहले कार्यालय कि स्थापना अल्बुकर्क में ही की | 26 नवम्बर, 1976 को उन्होंने Microsoft का नाम एक व्यापारिक Company के तौर पर पंजीकृत किया | Microsoft Basic कंप्यूटर के चाहने वालों में सबसे अधिक लोकप्रिय हो गया था | 1976 में ही Microsoft MITS से पूर्णत: स्वतंत्र हो गया तथा Gates और Allen ने मिलकर कंप्यूटर में प्रोग्रामिंग भाषा Software का कार्य जारी रखा | इनसे बाद Microsoft ने Albuquerque में अपना कार्यालय बंद कर Bellevue, Washington में अपना नया कार्यालय खोला | Microsoft ने उन्नति की ओर बढ़ते हुए प्रारंभिक वर्षों में बहुत मेहनत व् लगन से कार्य किया | गेट्स भी व्यावसायिक विवरण पर भी ध्यान देते थे, कोड लिखने का कार्य भी करते थे तथा अन्य कर्मचारियों द्वारा लिखे गए व् जारी किये गए कोड कि प्रत्येक पंक्ति कि समीक्षा भी वह स्वयं ही करते थे | इसके बाद जानी मानी Company IBM ने Microsoft के साथ काम करने में रूचि दिखाई, उन्होंने Microsoft से अपने पर्सनल कंप्यूटर के लिए बेसिक इंटरप्रेटर बनाने का अनुरोध किया | कई कठिनाइयों से निकलने के बाद गेट्स ने Seattle Computer Products के साथ एक समझौता किया जिसके बाद एकीकृत लाइसेंसिंग एजेंट और बाद में 86-DOS के वह पूर्ण आधिकारिक बन गए और बाद में उन्होंने इसे आईबीएम को $80,000 के शुल्क पर  PC-DOS के नाम से उपलब्ध कराया | इसके पश्चात Microsoft का उद्योग जगत में बहुत नाम हुआ | 1981 में Microsoft को पुनर्गठित कर बिल गेट्स को इसका चेयरमैन व् निदेशक मंडल का अध्यक्ष बनाया गया | जिसके बाद Microsoft ने अपना Microsoft Windows का पहला संस्करण पेश किया | 1975 से लेकर 2006 तक उन्होंने Microsoft के पद पर बहुत ही अदभुत कार्य किया, उन्होंने इस दौरान Microsoft company के हित में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए |
Tags: AJAY ahirwar,

More Related Blogs

Article Picture
Ajay ahirwar 30 days ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 30 days ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 3 months ago 0 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 3 months ago 0 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 3 months ago 0 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 4 months ago 3 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 4 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 4 months ago 0 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 5 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 5 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 5 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 6 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 6 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 6 months ago 4 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 6 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 6 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 6 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 6 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 3 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 3 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 3 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 7 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 7 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 4 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 3 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 4 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 7 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 8 months ago 4 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 8 months ago 1 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 8 months ago 2 Views
Article Picture
Ajay ahirwar 8 months ago 4 Views
Back To Top