भारत द्वारा LoC ट्रेड रोकने के फैसले से बौखलाया पाकिस्तान,

भारत सरकार ने हाल ही में पाकिस्तान के साथ नियंत्रण रेखा के उस पार से होने वाले सभी कारोबार को बंद करने का फैसला किया जिससे पाकिस्तान बुरी तरह बौखला गया है और उल्टा भारत पर ही आरोप लगा दिया।

Posted 4 months ago in Movies & Animation.

User Image
Raj Singh
113 Friends
1 Views
1 Unique Visitors
इस्लामाबाद 
भारत सरकार ने हाल ही में पाकिस्तान के साथ नियंत्रण रेखा के उस पार से होने वाले सभी कारोबार को बंद करने का फैसला किया जिससे पाकिस्तान बुरी तरह बौखला गया है। इस संबंध में पाकिस्तान ने भारत पर आरोप लगाते हुए कहा उसकी यह कार्रवाई 'आधारहीन आरोपों' पर आधारित है। इतना ही नहीं, पाकिस्तान ने भारत के उस आरोप को भी खारिज कर दिया जिसमें कहा जा रहा था कि पाकिस्तान में बैठे कुछ अराजक तत्व अवैध हथियारों, मादक पदार्थों और फेक करंसी आदि के काले कारोबार के लिए LoC ट्रेड रूट का इस्तेमाल कर रहे थे। 
पाकिस्तान ने भारत को सलाह देते हुए कहा है कि उसे एकतरफा फैसलों से बचना चाहिए और मुद्दों को सुलझाने के लिए सृजनात्मक तरीके अपनाने चाहिए। पाकिस्तान विदेश मंत्रालय द्वारा जारी की गई एक स्टेटमेंट के अनुसार, पाकिस्तान भारत के LoC ट्रेड को रोकने के एकतरफा फैसले की निंदा करता है और उसके गलत इस्तेमाल को लेकर जो आरोप लगाए गए हैं उन्हें भी सिरे से खारिज करता है। भारत का यह आरोप कि LoC ट्रेड रूट को अराजक तत्व अवैध हथियारों, मादक पदार्थों और फेक करंसी आदि के काले कारोबार के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है, भी निराधार है। हम भारत से अपील करते हैं कि एकतरफा फैसले लेने से बचें और विवादित मुद्दों को सुलझाने के लिए थोड़ा सृजनात्मक रवैया अपनाएं।' 
पाकिस्तान की यह टिप्पणी भारत के उस फैसले के चंद दिन बाद आई है, जिसमें गृह मंत्रालय 19 अप्रैल से जम्मू-कश्मीर में LoC ट्रेड को सस्पेंड रखने का आदेश जारी किया था। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) द्वारा की जा रही कुछ मामलों की जांच में इस बात का पता चला कि एलओसी ट्रेड करने वाले लोगों में बड़ी तादाद उनकी है जो आतंकवाद/अलगाववाद को भड़काने में शामिल प्रतिबंधित आतंकी संगठनों से ताल्लुक रखते हैं। पाकिस्तान की यह टिप्पणी भारत के उस फैसले के चंद दिन बाद आई है, जिसमें गृह मंत्रालय 19 अप्रैल से जम्मू-कश्मीर में LoC ट्रेड को सस्पेंड रखने का आदेश जारी किया था। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) द्वारा की जा रही कुछ मामलों की जांच में इस बात का पता चला कि एलओसी ट्रेड करने वाले लोगों में बड़ी तादाद उनकी है जो आतंकवाद/अलगाववाद को भड़काने में शामिल प्रतिबंधित आतंकी संगठनों से ताल्लुक रखते हैं। 

More Related Blogs

Article Picture
Raj Singh 26 days ago 0 Views
Article Picture
Raj Singh 28 days ago 0 Views
Article Picture
Raj Singh 1 month ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 1 month ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 1 month ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 1 month ago 2 Views
Article Picture
Raj Singh 2 months ago 3 Views
Article Picture
Raj Singh 2 months ago 3 Views
Article Picture
Raj Singh 2 months ago 2 Views
Back To Top