मां नरगिस के गुज़र जाने के बाद 3 साल तक नहीं रोए थे संजय दत्त !

मां नरगिस के गुज़र जाने के बाद 3 साल तक नहीं रोए थे संजय दत्त !संजय दत्त, वो एक्टर जिसे बॉलीवुड का बिगडैल बच्चा कहा गया और हमेशा एक बैड-बॉय इमेज में देखा गया। ड्रग्स और लड़ाई-झगड़ेके चक्कर में संजय इतने बदनाम हुए कि क्या कहा जाए।

Posted 6 months ago in Entertainment.

User Image
Hitesh Sable
338 Friends
2 Views
4 Unique Visitors
संजय दत्त, वो एक्टर जिसे बॉलीवुड का बिगडैल बच्चा कहा गया और हमेशा एक बैड-बॉय इमेज में देखा गया। ड्रग्स और लड़ाई-झगड़ेके चक्कर में संजय इतने बदनाम हुए कि क्या कहा जाए। एक वक़्त ऐसा भी आया कि जब लोगों ने उम्मीद ही छोड़ दी कि संजय का कुछ हो सकता है। लेकिन इस दुनिया में एक इन्सान को संजय पर पूरा भरोसा था, वो थीं उनकी मां नरगिस। बॉलीवुड की लीजेंड एक्ट्रेस कही जाने वाली नरगिस ने बॉलीवुड को बहुत सारी ऐसी फ़िल्में दी हैं जिनकी तारीफ़ हॉलीवुड के फिल्म कलाकार आज भी करते हैं। बच्चे चाहे कैसे भी हों मां को उनपर पूरा भरोसा रहता ही है। नरगिस को भी संजय पर पूरा भरोसा था कि संजय कभी तो सुधरेंगे, कुछ अच्छा करेंगे।


और इसी उम्मीद में उन्होंने संजय को बहुत डांटा फटकारा भी। संजय खुद कई सारे इंटरव्यूज में ये बात कह चुके हैं कि उनकी मां से उन्हें डांट भी बहुत पड़ती थी लेकिन वो उन्हें प्यार भी बहुत करती थीं। संजय दत्त यानी संजू अपनी मां से बहुत प्यार करते थे, लेकिन जब उनकी असमय मृत्यु हुई तो संजय रो भी नहीं पाए। जैसा कि सब जानते हैं कि संजू को बहुत कम उम्र में नशे की आदत पड़ गई थी और इसके लिए घर में उन्हें बहुत बार डांटा-फटकारा जा चुका था। संजू ने अपनी पढाई अमेरिका से शुरू की और वहां रहते हुए उनकी ये नशे की आदत और भी ज़्यादा बढ़ गई।


जब संजू की इस आदत के बारे में उनके पापा बॉलीवुड एक्टर सुनील दत्त को पता चला तो उन्होंने संजू को वापिस भारत बुला लिया। संजू का मन पढ़ाई में बिलकुल भी नहीं लगता था। लेकिन कुछ न कुछ काम तो करना ही था, तो उन्होंने बॉलीवुड में आने का फैसला किया। उनकी पहली फिल्म ‘रॉकी’ में उन्हें काम मिला और फिल्म की शूटिंग शुरू हो गई। शूटिंग के दौरान ही उनकी मां नरगिस को कैंसर होने का पता चला। नरगिस के इलाज के लिए सुनील दत्त ने पूरी दुनिया की ख़ाक छान मारी मगर उन दिनों कैंसर का इलाज बहुत मुश्किल था। आखिरकार नरगिस के शरीर ने भी जवाब दे दिया और सिर्फ़ 51 साल की उम्र में उनकी मौत हो गई। जब उनकी मौत की खबर संजय को मिली तो वो कुछ भी रियेक्ट नहीं कर पाए।



संजय ने कई इंटरव्यूज में कहा है कि ऐसा इसलिए हुआ क्योंकि उनकी ड्रग्स की आदत छोटी नहीं थी और ड्रग्स के नशे के कारण वो रो भी नहीं पाए। इस बात ने संजय को बहुत कचोटा। संजय ने हिम्मत करके ड्रग्स छोड़ने का फैसला किया और आखिरकार जब उन्होंने ड्रग्स छोड़े तो उनकी मां की मौत को 3 साल हो चुके थे। ड्रग्स छोड़ने में संजू की मदद के लिए, उनके पापा ने यहां से वो वीडियोज़ भेजे जो नरगिस ने अपनी मौत के कुछ दिन पहले रिकॉर्ड किए थे। 3 साल बाद संजय को एहसास हुआ कि उन्होंने अपनी मां को खो दिया है और वो अपने आखिरी वक़्त भी इसी चिंता में थीं कि संजय का क्या होगा। इस एक वाकये ने संजय की जिंदगी हमेशा के लिए बदल दी।

More Related Blogs

Article Picture
Hitesh Sable 7 months ago 1 Views
Article Picture
Hitesh Sable 7 months ago 2 Views
Article Picture
Hitesh Sable 7 months ago 1 Views
Article Picture
Hitesh Sable 7 months ago 2 Views
Article Picture
Hitesh Sable 7 months ago 8 Views
Back To Top