वायुसेना के हमले के बाद महबूबा मुफ़्ती ने किया यह सनसनीखेज ट्विट

वायुसेना के हमले के बाद महबूबा मुफ़्ती ने किया यह सनसनीखेज ट्विट
26 Feb. 2019 13:23

specialcoveragenews.in
Author
+ फॉलो करें

जब पूरा देश पाकिस्तान पर किये गये हमले में सेना और सरकार के साथ खड़ा था तब जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने सरकार के इस काम पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया है. उन

Posted 8 months ago in News and Politics.

User Image
Niteen Deshmukh
99 Friends
2 Views
3 Unique Visitors
वायुसेना के हमले के बाद महबूबा मुफ़्ती ने किया यह सनसनीखेज ट्विट
26 Feb. 2019 13:23

specialcoveragenews.in
Author
+ फॉलो करें

जब पूरा देश पाकिस्तान पर किये गये हमले में सेना और सरकार के साथ खड़ा था तब जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने सरकार के इस काम पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया है. उन्होंने कहा है कि भारत और पाकिस्तान के ब्यान विरोधावासी है.

महबूबा मुफ़्ती ने कहा कि भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए आतंकी ठिकानों पर हमले के बाद परस्पर विरोधी रिपोर्टें आ रही हैं. एफएस की आधिकारिक विज्ञप्ति में दावा किया गया है कि आतंकी प्रशिक्षण शिविरों पर बमबारी की गई, जबकि पाकिस्तान ने इस बात से इनकार किया और कहा कि विमानों को देखते ही घेरने की योजना बनाई तब तक विमान भाग गये. उनके विमानों को भारतीय सीमा रेखा के आसपास चार किलोमीटर के दायरे में देखा गया. उसके बाद पाक ने उसी समय यह जानकारी अपने ट्विटर हेडिल से मय फोटो शेयर की है.

बता दें कि सीएम महबूबा ने सोमवार को भी एक ट्विट कर कहा था कि आग से मत खेलो. अनुच्छेद -35 A के साथ कोई छेड़छाड़ न करें. अन्यथा आप देखेंगे कि आपने 1947 में क्या नहीं देखा है, अगर यह बदलाब हुआ है तो मुझे नहीं पता कि जम्मू-कश्मीर के लोग कौन से झंडे को तिरंगे के बजाय लोग उठा लेंगे. यह कहाँ मुश्किल भरा काम होगा.

वहीँ पाकिस्तान की सेना के प्रवक्ता ने सवेरे पांच बजकर तेईस मिनट पर कहा है कि भारतीय वायु सेना ने नियंत्रण रेखा का उल्लंघन किया है. पाकिस्तान वायु सेना ने तुरंत जबाब दिया है और भारतीय विमान वापस चले गए है. ठीक उसके सात बजकर छह मिनट उन्होंने कहा है कि मुज़फ़्फ़राबाद सेक्टर से भारतीय विमानों की घुसपैठ की गई है.उसके बाद पाकिस्तान वायु सेना से समय पर और प्रभावी प्रतिक्रिया का सामना करते हुए जल्दबाजी में कुछ पेलोड था जो बचते समय बालाकोट के पास गिर गया. जिसमें कोई हताहत या नुकसान नहीं हुआ है. उसके कुछ देर बाद उनके द्वारा कुछ तस्वीरें भी जारी की गई है. उसके बाद उन्होंने दस बजे कहा कि J & K के भीतर मुज़फ़्फ़राबाद सेक्टर में LOC के पार भारतीय वायुयानों की घुसपैठ 3-4 मील की दूरी पर की गई थी. कोई इंफ्रास्ट्रक्चर हिट नहीं हुआ, कोई हताहत नहीं हुआ है.

इस सबके बाद सीएम महबूबा मुफ़्ती ने अपनी बात कही है.जब पूरा देश पाकिस्तान पर किये गये हमले में सेना और सरकार के साथ खड़ा था तब जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने सरकार के इस काम पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया है. उन्होंने कहा है कि भारत और पाकिस्तान के ब्यान विरोधावासी है.

महबूबा मुफ़्ती ने कहा कि भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए आतंकी ठिकानों पर हमले के बाद परस्पर विरोधी रिपोर्टें आ रही हैं. एफएस की आधिकारिक विज्ञप्ति में दावा किया गया है कि आतंकी प्रशिक्षण शिविरों पर बमबारी की गई, जबकि पाकिस्तान ने इस बात से इनकार किया और कहा कि विमानों को देखते ही घेरने की योजना बनाई तब तक विमान भाग गये. उनके विमानों को भारतीय सीमा रेखा के आसपास चार किलोमीटर के दायरे में देखा गया. उसके बाद पाक ने उसी समय यह जानकारी अपने ट्विटर हेडिल से मय फोटो शेयर की है.

बता दें कि सीएम महबूबा ने सोमवार को भी एक ट्विट कर कहा था कि आग से मत खेलो. अनुच्छेद -35 A के साथ कोई छेड़छाड़ न करें. अन्यथा आप देखेंगे कि आपने 1947 में क्या नहीं देखा है, अगर यह बदलाब हुआ है तो मुझे नहीं पता कि जम्मू-कश्मीर के लोग कौन से झंडे को तिरंगे के बजाय लोग उठा लेंगे. यह कहाँ मुश्किल भरा काम होगा.

वहीँ पाकिस्तान की सेना के प्रवक्ता ने सवेरे पांच बजकर तेईस मिनट पर कहा है कि भारतीय वायु सेना ने नियंत्रण रेखा का उल्लंघन किया है. पाकिस्तान वायु सेना ने तुरंत जबाब दिया है और भारतीय विमान वापस चले गए है. ठीक उसके सात बजकर छह मिनट उन्होंने कहा है कि मुज़फ़्फ़राबाद सेक्टर से भारतीय विमानों की घुसपैठ की गई है.उसके बाद पाकिस्तान वायु सेना से समय पर और प्रभावी प्रतिक्रिया का सामना करते हुए जल्दबाजी में कुछ पेलोड था जो बचते समय बालाकोट के पास गिर गया. जिसमें कोई हताहत या नुकसान नहीं हुआ है. उसके कुछ देर बाद उनके द्वारा कुछ तस्वीरें भी जारी की गई है. उसके बाद उन्होंने दस बजे कहा कि J & K के भीतर मुज़फ़्फ़राबाद सेक्टर में LOC के पार भारतीय वायुयानों की घुसपैठ 3-4 मील की दूरी पर की गई थी. कोई इंफ्रास्ट्रक्चर हिट नहीं हुआ, कोई हताहत नहीं हुआ है.

इस सबके बाद सीएम महबूबा मुफ़्ती ने अपनी बात कही है.


रिपोर्ट
अमरनाथ_आतंकी_हमला- क्या पाकिस्तान को उसी की भाषा में जवाब देने का समय आ गया है?
अमरनाथ यात्रियों पर आतंकी हमला, पूर्व सूचना होने के बाद भी सरकार ने क्यों नहीं की कार्रवाई?
754,536 views
224
Tags: #lookchup,

More Related Blogs

Back To Top