सुनील शेट्टी जन्म दिन : 11 Aug 1961 आयु : 57

सुनील शेट्टी भारतीय फिल्म अभिनेता, निर्माता, टेलीविजन प्रिजेंटर और एंटरप्रेन्योर हैं जो कि मुख्यतः हिन्दी फिल्मों में काम करते हैं 

Posted 9 months ago in Entertainment.

User Image
Poonam Namdev
28 Friends
2 Views
61 Unique Visitors
उन्होंने बाॅलीवुड में अपना स्थान एक्शन हीरो के रूप में बनाया। लोग उन्हें प्यार से अन्ना कहते हैं। बाॅलीवुड के अलावा उन्होंने इंग्लिश फिल्म डोंट स्टाॅप ड्रीमिंग और तमिल फिल्म 12बी में काम किया। उनकी सफल फिल्मों में बलवान, दिलवाले, अंत, मोहरा, गोपी किशन, कृष्णा, रक्षक, बाॅर्डर, भाई, हेराफेरी, धड़कन आदि शामिल है। 2014 में उन्होंनेे न्यूमरोलाॅजी के आधार पर अपने नाम की स्पेलिंग को चेंज किया। उन्होंने 2001 में धड़कन फिल्म के लिए बेस्ट विलेेन का फिल्मफेयर पुरस्कार भी जीता। उन्होंने पाॅपकार्न मोशन पिक्चर्स बैनर तले कई फिल्में भी प्रोड्यूस कीं जिसमें खेल-नो आर्डनरी गेम, रक्त, भागमभाग शामिल हैं। उन्हें 2009 में साउथ एशिया इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में फिल्म रेड अलर्टः द वार विद इन के लिए बेस्ट एक्टर का अवार्ड मिला। इसके अलावा भी उन्हें कई बार कई पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है। 
सुनील का जन्म मुल्की, मैंगलोर, कर्नाटक में हुआ था। उनका एक रेस्त्रां भी है जिसकी खासियत उदुपी क्युजाइन है और उनका कपड़ों का बुटीक भी है। वे किक बाॅक्सिंग में ब्लैक बेल्ट भी हैं। पहलाज निहलानी ने उन्हें मुख्य अभिनेता के तौर पर फिल्म एक और फौलाद के लिए साइन किया था लेकिन क्रिएटिव डिफरेंसस की वजह से प्रोडक्शन को कैसिंल कर दिया गया। शेट्टी ने अपना करियर 1992 में आई बलवान के साथ शुरू किया। इसमें उनकी हीरोईन दिव्या भारती थीं। यह फिल्म सफल रही। उनकी दूसरी रिलीज ‘वक्त हमारा है’ थी जिसमें वे पहली बार अक्षय कुमार के साथ नजर आए और फिल्म सफलद रही। फिल्म पहचान में उन्होंने बड़े भाई का किरदार निभाया। फिल्म में सैफ अली खान, शिल्पा शिरोडकर, और मधु मुख्य भूमिका में थे और इस फिल्म ने भी बाॅक्स आॅफिस पर सफलता हासिल की। 

बाद में सुनील का करियर और स्थापित 1994 में आईं फिल्मों से हुआ। उस दौरान उन्होंने अंत जिसमें वे सोमी अली के साथ थे और दिलवाले जिसमें वे अजय देवगन और रवीना टंडन के साथ थे, जैसी हिट फिल्मों में काम किया। इसके बाद वे ब्लाकबस्टर फिल्म मोहरा में अक्षय कुमार, रवीना टंडन और नसीरूद्दीन शाह के साथ दिखाई दिए। उसी साल वे फिल्म गोपी किशन में अपने पहले काॅमेडी रोल में नजर आए जो कि बाॅक्स आॅफिस पर हिट साबित हुई। उनकी अक्षय कुमार के साथ तीसरी फिल्म हम हैं बेमिसाल बाॅक्स आॅफिस पर पिट गई। उनकी 1995 में रिलीज हुई सभी फिल्में-रघुवीर, गद्दार, टक्कर बाॅक्स आॅफिस पर औसत रहीं। उन्होंनेे पहली बार फिल्म गद्दार में एंटी हीरो का किरदार निभाया। 1996 में आईं उनकी ज्यादातर फिल्में फलाप रहीं जिनमें विश्वासघात, शस्त्र और एक था राजा शामिल हैं लेकिन फिल्म सपूत जो कि अक्षय कुमार के साथ उनकी चैथी फिल्म थी और करिश्मा कपूर के साथ कृष्णा उस दौरान औसत हिट रही। 1997 में उन्हें ब्लाकबस्टर फिल्म बाॅर्डर में उनकी परफाॅर्मेंस के लिए काफी सराहा गया और दीवाली पर रिलीज हुई उनकी फिल्म ‘भाई’ शाहरूख खान की फिल्म ‘दिल तो पागल है’ के साथ रिलीज होने के बावजूद सफल रही। 1998 और 1999 शेट्टी के लिए असफल वर्ष रहा लेकिन 1999 में आई हू तू तू में उनका किरदार क्रिटिकली अक्लेम्ड रहा।यह दशक फिल्म धड़कन के साथ शुरू हुआ जिसमें वे एक बार फिर अक्षय कुमार के साथ बड़े पर्दे पर दिखाई दिए। यह फिल्म बाॅक्स आॅफिस पर बड़ी सफल हुई और सुनील को फिल्मफेयर का बेस्ट विलेन अवार्ड मिला। उन्होंने जेपी दत्ता की रिफयूजी और राम गोपाल वर्मा की जंगल में सहायक भूमिकाएं भी निभाईं। इसके बाद आई उनकी फिल्म ये तेरा घर ये मेरा घर पिट गई जबकि हेराफेरी काफी सफल हुई। इन दोनों ही फिल्मों का निर्देशन प्रियदर्शन ने किया था। शेट्टी ने रक्त, रूद्राक्ष और मैं हू ना में एंटी हीरो का किरदार निभाया। 2006 में उन्हें फिल्म फिर हेराफेरी के साथ सफलता का स्वाद चखा। शेट्टी कई सफल मल्टीस्टारर फिल्मों का हिस्सा रहे जैसे आवारा पागल दीवाना, कांटे, आनः मेन एट वर्क, दस, मैं हूं ना, चुप चुप के, शूटआउट एट लोखंडवाला आदि। बलवान, वक्त हमारा है, पहचान, दिलवाले, अंत, मोहरा, गोपी किशन, हम हैं बेमिसाल, सुरक्षा, रघुवीर, गद्दार, टक्कर, एक था राजा, विश्वासघात, कृष्णा, शस्त्र, सपूत, रक्षक, बाॅर्डर, पृथ्वी, भाई, आक्रोश, हू तू तू, क्रोध, हेराफेरी, रिफयूजी, जंगल, धड़कन, आॅफिसर, ये तेरा घर ये मेरा घर, आवारा पागल दीवाना, मसीहा, कांटे, कयामतः सिटी अंडर थ्रेट, रूद्राक्ष, मैं हूं ना, आॅनः मेन एट वर्क, हलचल, टैंगो चार्ली, दस, फाइट क्लब-मेंबर्स आॅनली, चुप चुप के, फिर हेराफेरी, अपना सपना मनी मनी, शूटआउट एट लोखंडवाला, कैश, वन टू थ्री, दे दना दन, रेड अलर्टः द वार विद इन, नो प्राॅब्लम, थैंक्यू, लूट, एनेमी, कोयलांचल। 

More Related Blogs

Article Picture
Poonam Namdev 10 months ago 6 Views
Article Picture
Poonam Namdev 11 months ago 2 Views
Article Picture
Poonam Namdev 11 months ago 3 Views
Article Picture
Poonam Namdev 11 months ago 1 Views
Article Picture
Poonam Namdev 11 months ago 5 Views
Article Picture
Poonam Namdev 11 months ago 3 Views
Article Picture
Poonam Namdev 11 months ago 3 Views
Article Picture
Poonam Namdev 11 months ago 2 Views
Article Picture
Poonam Namdev 11 months ago 3 Views
Back To Top