वर्ल्ड कप 2019 में सबसे ज्यादा उम्र वाले खिलाडी,जाने इनके बारे में

वर्ल्ड कप 2019 में सबसे ज्यादा उम्र वाले खिलाडी,जाने इनके बारे में

Posted 7 months ago in Other.

User Image
apoorva pandey
14 Friends
1 Views
1 Unique Visitors
आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2019 इंग्लैंड एवं वेल्स में 30 मई से शुरू हो रहा है। इस विश्व कप में कुल 10 टीमें हिस्सा लेंगी। विराट कोहली की अगुवाई वाली भारतीय क्रिकेट टीम को इस विश्व कप का प्रबल दावेदार माना जा रहा है। इंडियन प्रीमियर लीग 2019 में करीब दो महीने तक लगातार क्रिकेट खेलने के बाद अब भारतीय टीम के खिलाड़ी विश्व कप के मिशन पर जाने वाले हैं।

भारतीय टीम 22 मई को सुबह मुंबई से इंग्लैंड के लिए रवाना होगी। लेकिन 15 सदस्यीय विश्व कप टीम के चोटिल खिलाड़ी केदार जाधव के टीम इंडिया के साथ रवाना होने पर अभी भी संदेह बरकरार है। हालांकि, उम्मीद यही की जा रही है कि जाधव जल्द फिट हो जाएंगे और काफी हद तक इसी के आसार भी दिख रहे हैं।

जाधव की फिटनेस को लेकर टीम प्रबंधन को उम्मीद है कि वह भारत के रवाना होने तक फिट हो जाएंगे।

इस विश्व कप में 13 खिलाड़ी ऐसे हैं जो उम्र 35 वर्ष से अधिक उम्र के हैं। एक की आयु 40 से भी ज्यादा है। 2015 में हुए पिछले विश्व कप में 17 खिलाड़ी 35 वर्ष से अधिक उम्र के थे जबकि तीन 40 से ऊपर।

1 - शोएब मलिक
पाकिस्तान के पूर्व कप्तान और भारतीय टेनिस सुपरस्टार सानिया मिर्जा के पति शोएब मलिक ने वनडे क्रिकेट को लेकर अपनी योजना का खुलासा कर दिया है. शोएब ने कहा है कि वह अगले साल होने वाले विश्व कप के बाद वनडे क्रिकेट को अलविदा कह देंगे. हालांकि, शोएब कुछ साल और खेलना चाहते थे, लेकिन पत्नी सानिया मिर्जा की सलाह पर उन्होंने यह फैसला लिया है.

शोएब मलिक ने अपने क्रिकेट करियर में कुल 282 मैच खेले हैं, जिसकी 252 पारियों में उन्होंने 35.12 की औसत से 7481 रन बनाए। 9 शतक और 44 अर्धशतक जमाने वाले इस अनुभवी खिलाड़ी के वन-डे करियर का सर्वाधिस स्कोर 149 भारत के खिलाफ रहा है। शोएब बल्लेबाजी के साथ-साथ अच्छी गेंदबाजी के लिए भी पहचाने जाते हैं। उन्होंने 39.17 की औसत से 156 विकेट भी चटकाए हैं। अपना आखिरी विश्व कप खेल रहा यह खिलाड़ी पाकिस्तान को खिताब दिलाकर अच्छी विदाई चाहते है।

2 - महेंद्र सिंह धोनी
भारतीय क्रिकेट इतिहास के सफलतम कप्तान रहे महेंद्र सिंह धोनी ने कप्तानी को अलविदा कह दिया है। 23 साल की उम्र में ही धोनी इंडियन टीम में आ गए थे। टीम में दिग्गजों की मौजूदगी के बावजूद धोनी को कैप्टन बनाया गया। धोनी की कप्तानी के दौरान टीम इंडिया ने वर्ल्ड टी20, वर्ल्ड कप, चैंपियंस ट्रॉफी, नंबर वन टेस्ट टीम जैसे खिताब हासिल किए।

उन्होंने दोनों ही बार 148-148 रन की पारी खेली थी। महेंद्र सिंह धौनी द्वारा पाकिस्तान के फैसलाबाद में जनवरी, 2006 में बनाया गया पहला टेस्ट शतक किसी भी भारतीय विकेटकीपर द्वारा खेली गई सबसे तेज शतकीय पारी है। आईसीसी विश्व कप 2011 के फाइनल मुकाबला में श्रीलंका के खिलाफ नाबाद 91 रनों की पारी है. महेंद्र सिंह धोनी नाबाद 91 रनों की पारी मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेली थी. इस मैच में धोनी ने छक्का मारकर भारत को दूसरी बार विश्व चैंपियन बनाने में अहम भूमिका निभाई थी.

3 - मोहम्मद हफीज
मोहम्मद हफीज ने पिछले साल ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ शतक बनाने के बाद से पिछली सात पारियों में केवल 66 रन बनाए हैं। न्यूजीलैंड के खिलाफ वे दो टेस्ट मैचों में 20, 10 और 9 रन ही बना पाए। पाकिस्तान ने दूसरा टेस्ट पारी और 16 रनों से जीतकर दो मैचों की सीरीज में 1-1 की बराबरी की। न्यूजीलैंड ने पहला टेस्ट 4 रनों से जीता था। हफीज ने कहा मुझे लगता है कि अब समय आ गया है। मैं संन्यास की घोषणा कर रहा हूं और मुझे खुशी है कि मैंने अपने करियर में कड़ी मेहनत की है.

वर्ष 2003 में कराची में बांग्लादेश के खिलाफ टेस्ट में पदार्पण करने वाले हफीज ने पिछले 54 मैचों में 3644 रन बनाए हैं। इनमें 10 शतक और 12 अर्धशतक शामिल हैं।इन रनों को बनाने के लिए उनका औसत 38.35 रहा है। साथ ही वह इन मैचों में 53 विकेट भी झटक चुके हैं।

4 - क्रिस गेल
क्रिकेट की दुनिया में यूनिवर्सल बॉस के नाम से मशहूर वेस्टइंडीज के विस्फोटक बल्लेबाज़ क्रिस गेल अपनी शानदार बैटिंग के अलावा फिटनेस के लिए भी जाने जाते हैं। अपना पांचवां और आखिरी विश्व कप खेलने जा रहे क्रिस गेल 39 वर्ष की आयु में भी खुद को फिट रखते हैं। आप सोच रहे होंगे कि वो अपनी फिटनेस को बरक़रार रखने के लिए घंटो जिम में पसीना बहाते होंगे। अगर आप यह सोच रहे हैं तो आप गलत हैं। ताज़ा जानकारी के मुताबिक गेल पिछले 2 महीनों से जिम से दूर हैं।

39 वर्ष की दहलीज पार कर चुकें गेल ने अपने आपको तंदरुस्त रखने के लिए नया नुस्खा ढूंढ लिया है। शारीरिक रूप से बेहद शक्तिशाली होने की वजह से अब वो जिम नहीं जाते बल्कि दो मैचों के बीच काफी आराम करते हैं। आपको बता दें उनकी फिटनेस का राज़ जिम नहीं बल्कि योग और मालिश के सत्र हैं। जिससे उन्हें थकान से उबरने में मदद मिलती है.

5 - इमरान ताहिर
इंडियन प्रीमियर लीग का 12वां सीजन रविवार को खत्म हो गया। मुंबई इंडियंस चैम्पियन बना और चेन्नई सुपरकिंग्स रनरअप रहा। इस सीजन में कम कीमत में खरीदे या रिटेन किए गए कई गेंदबाजों का अच्छा प्रदर्शन रहा। टूर्नामेंट के टॉप-5 हाइएस्ट विकेट टेकर्स में जसप्रीत बुमराह और कगिसो रबाडा को छोड़कर किसी भी गेंदबाज की कीमत एक करोड़ रुपए से ज्यादा नहीं थी। इमरान ताहिर ने 26 विकेट के साथ पर्पल कैप हासिल की।

इमरान ने साबित किया कि उम्र महज नंबर है. इमरान इस आईपीएल के फाइनल में खेलने के साथ ही आईपीएल के इतिहास में फाइनल में खेलने वाले सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बन गए. 40 साल के इमरान ताहिर से पहले यह कारनामा ऑस्ट्रेलिया के माइकल हसी के नाम पर था. तब साल 2015 में हसी ने 39 साल की उम्र में सीएसके के लिए ही यह रिकॉर्ड बनाया था, जो चार साल बाद इमरान ने तोड़ दिया.

मतलब इमरान ताहिर 40 साल और 46 साल की उम्र में आईपीएल फाइनल का हिस्सा बनने वाले पहले खिलाड़ी बन गए. ताहिर ने 95 वनडे में 156 विकेट लिये हैं. वह इससे पहले 2011 और 2015 विश्व कप में खेले थे. इसके अलावा उन्होंने 2014 और 2016 के टी-20 वर्ल्ड कप टूर्नामेंट में भी हिस्सा लिया था.
Tags: #cricket,

More Related Blogs

Article Picture
apoorva pandey 7 months ago 4 Views
Article Picture
apoorva pandey 7 months ago 8 Views
Article Picture
apoorva pandey 7 months ago 4 Views
Article Picture
apoorva pandey 7 months ago 4 Views
Back To Top