Cricket ke bare mein

World Cup क्रिकेट के बारे में रोचक जानकारी

By Hindigyanbook on November 28, 2016

World Cup क्रिकेट के बारे में रोचक जानकारी

आप सभी जानते होंगे इस दुनिया में सभी तरह के खेल चलते हैं लेकिन अपने अपने देश के लोगों की अपनी-अपनी खेल के प्रति भावना होती है और अपने अपने देश के लोगों के अलग-अलग राष्ट्रीय

Posted 5 days ago in Other.

User Image
rekha sahu
37 Friends
1 Views
1 Unique Visitors
क्रिकेट

क्रिकेट गेंद और बल्ले के साथ 11 खिलाड़ियों के साथ खेला जाता है

किसी अन्य भाषा में पढ़ें

इस पृष्ठ का ध्यान रखें

संपादित करें

क्रिकेट एक बल्ले और गेंद का दलीय खेल है जिसकी शुरुआत दक्षिणी इंग्लैंड में हुई थी। इसका सबसे प्राचीन निश्चित संदर्भ १५९८ में मिलता है, अब यह १०० से अधिक देशों में खेला जाता है।[1] क्रिकेट के कई प्रारूप हैं, इसका उच्चतम स्तर टेस्ट क्रिकेट है, जिसमें वर्तमान प्रमुख राष्ट्रीय टीमें भारत, ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका, इंग्लैण्ड, श्रीलंका, वेस्टइंडीज, न्यूजीलैण्ड, पाकिस्तान, ज़िम्बाब्वे , बांग्लादेशअफ़ग़ानिस्तान और आयरलैण्ड हैं।[2] अप्रैल 2018 में, आईसीसी ने घोषणा की कि वह 1 जनवरी 2019 से अपने सभी 120सदस्यों को ट्वेन्टी-२० अंतरराष्ट्रीय की मान्यता प्रदान क्रिकेट के बल्ले से गेंद को खेलता है। इसी बीच गेंदबाज की टीम के अन्य सदस्य मैदान में क्षेत्ररक्षक के रूप में अलग-अलग स्थितियों में खड़े रहते हैं, ये खिलाड़ी बल्लेबाज को दौड़ बनाने से रोकने के लिए गेंद को पकड़ने का प्रयास करते हैं और यदि सम्भव हो तो उसे आउट करने की कोशिश करते हैं।abhinethriबल्लेबाज यदि आउट नहीं होता है तो वो विकेटों के बीच में भाग कर दूसरे बल्लेबाज ("गैर स्ट्राइकर") से अपनी स्थिति को बदल सकता है, जो पिच के दूसरी ओर खड़ा होता है। इस प्रकार एक बार स्थिति बदल लेने से एक रन बन जाता है। यदि बल्लेबाज गेंद को मैदान की सीमारेखा तक हिट कर देता है तो भी रन बन जाते हैं। स्कोर किए गए रनों की संख्या और आउट होने वाले खिलाड़ियों की संख्या मैच के परिणाम को निर्धारित करने वाले मुख्य कारक हैं।

क्रिकेट
२०१६ आईसीसी विश्व ट्वेन्टी २० फाइनल के दौरान इडेन गार्डेंस,भारत।सर्वोच्च नियंत्रण निकायअंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषदउपनाम"The Gentleman's game" "सज्जनों का खेल"सबसे पहले खेला गया१६वीं शताब्दीविशेषताएँदल के सदस्यप्रत्येक दल में ११ खिलाड़ी
स्थानापन्न खिलाड़ी केवल क्षेत्ररक्षण के लिएमिश्रित लिंगएकल लिंग खेलवर्गीकरणदलीय खेल, बल्ले और गेंद काउपकरणक्रिकेट बाल, क्रिकेट बैट,
व़िकेट: स्टंप, गुल्लीस्थलक्रिकेट मैदानओलंपिक१९००

यह कई बातों पर निर्भर करता है कि क्रिकेट के खेल को ख़त्म होने में कितना समय लगेगा। पेशेवर क्रिकेट में यह सीमा हर पक्ष के लिए २० ओवरों से लेकर ५ दिन खेलने तक की हो सकती है। खेल की अवधि के आधार पर विभिन्न नियम हैं जो खेल में जीत, हार, अनिर्णीत (ड्रा), या बराबरी (टाई) का निर्धारण करते हैं।

क्रिकेट मुख्यतः एक बाहरी खेल है और कुछ मुकाबले कृत्रिम प्रकाश (फ्लड लाइट्स) में भी खेले जाते हैं। उदाहरण के लिए, गरमी के मौसम में इसे संयुक्त राजशाही, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका में खेला जाता है जबकि वेस्ट इंडीज, भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका और बांग्लादेश में ज्यादातर मानसून के बाद सर्दियों में खेला जाता है।

मुख्य रूप से इसका प्रशासन दुबई में स्थित अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के द्वारा किया जाता है, जो इसके सदस्य राष्ट्रों के घरेलू नियंत्रित निकायों के माध्यम से विश्व भर में खेल का आयोजन करती है। आईसीसी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेले जाने वाले पुरूष और महिला क्रिकेट दोनों का नियंत्रण करती है। हालांकि पुरूष, महिला क्रिकेट नहीं खेल सकते हैं पर नियमों के अनुसार महिलाएं पुरुषों की टीम में खेल सकती हैं।

मुख्य रूप से भारतीय उपमहाद्वीप, आस्ट्रेलिया, यूनाइटेड किंगडम, आयरलैंड, दक्षिणी अफ्रीका और वेस्टइंडीज में क्रिकेट का पालन किया जाता है।[3] नियम संहिता के रूप में होते हैं जो, क्रिकेट के कानून कहलाते हैं[4] और इनका अनुरक्षण लंदन में स्थित मेरीलेबोन क्रिकेट क्लब (एम सी सी) के द्वारा किया जाता है। इसमें आई सी सी और अन्य घरेलू बोर्डों का परामर्श भी शामिल होता है।

क्रिकेट मुकाबला दो दलों (टीमों) या पक्षों के बीच खेला जाता है। हर टीम में ग्यारह खिलाड़ी होते हैं। इसका मैदानकई आकार और आकृतियों का हो सकता है। मैदान घासका होता है और इसे ग्राउंड्समैन के द्वारा तैयार किया जाता है, जिसके कार्य में उर्वरण, कटाई, रोलिंग और सतह को समतल करना शामिल होता है। मैदान का व्यास 140–160 गज़ (130–150 मी॰) सामान्य होता है। मैदान की परिधि को सीमा कहा जाता है और इसे कभी कभी रंग दिया जाता है या कभी कभी एक रस्सी के द्वारा मैदान की बाहरी सीमा को चिह्नित किया जाता है। मैदान गोल, चौकोर या अंडाकार हो सकता है, क्रिकेट का सबसे प्रसिद्ध मैदान है ओवल। प्रत्येक टीम का उद्देश्य होता है दूसरी टीम से अधिक रनबनाना और दूसरी टीम के सभी खिलाड़ियों को आउट करना। क्रिकेट में खेल को ज्यादा रन बना कर भी जीता जा सकता है, चाहे दूसरी टीम को पूरी तरह से आउट न किया गया हो। दूसरे रूप में खेल को जीतने के लिए अधिक रन बनाना और दूसरी टीम को आउट करना जरुरी होता है, अन्यथा मुकाबला बिना किसी नतीजे के समाप्त हो जाता है। खेल शुरू होने से पहले दोनों टीमों के कप्तान एक सिक्के को उछाल करके निर्धारित करते हैं कि कौन सी टीम पहले बल्लेबाजी या गेंदबाजी करेगी। टॉस जीतने वाला कप्तान पिच औसम की वर्तमान और प्रत्याशित स्थिति के अनुसार अपना फैसला लेता है।

More Related Blogs

Article Picture
rekha sahu 19 hours ago 1 Views
Article Picture
rekha sahu 3 days ago 0 Views
Article Picture
rekha sahu 4 days ago 0 Views
Article Picture
rekha sahu 5 days ago 2 Views
Article Picture
rekha sahu 5 days ago 0 Views
Article Picture
rekha sahu 5 days ago 1 Views
Article Picture
rekha sahu 5 days ago 1 Views
Article Picture
rekha sahu 5 days ago 0 Views
Article Picture
rekha sahu 5 days ago 5 Views
Article Picture
rekha sahu 5 days ago 1 Views
Article Picture
rekha sahu 5 days ago 4 Views
Article Picture
rekha sahu 6 days ago 3 Views
Article Picture
rekha sahu 6 days ago 0 Views
Article Picture
rekha sahu 6 days ago 2 Views
Article Picture
rekha sahu 7 days ago 1 Views
Article Picture
rekha sahu 7 days ago 0 Views
Article Picture
rekha sahu 7 days ago 2 Views
Article Picture
rekha sahu 7 days ago 1 Views
Article Picture
rekha sahu 7 days ago 1 Views
Article Picture
rekha sahu 8 days ago 2 Views
Article Picture
rekha sahu 8 days ago 0 Views
Article Picture
rekha sahu 8 days ago 1 Views
Article Picture
rekha sahu 9 days ago 1 Views
Article Picture
rekha sahu 10 days ago 3 Views
Article Picture
rekha sahu 10 days ago 3 Views
Article Picture
rekha sahu 10 days ago 1 Views
Article Picture
rekha sahu 10 days ago 3 Views
Article Picture
rekha sahu 12 days ago 27 Views
Back To Top