इंडिया गेट का प्रारंभिक इतिहास

इंडिया गेट भारत के दिल्ली में स्थित है, जिसे मूल रूप से अखिल भारतीय युद्ध स्मारक भी कहा जाता है। और यह इतिहासिक धरोहर इम्पीरियल वॉर ग्रेव कमीशन (IWGC)

Posted 4 months ago in Other.

User Image
Dipika Solanki
290 Friends
4 Views
3 Unique Visitors
इंडिया गेट भारत के दिल्ली में स्थित है, जिसे मूल रूप से अखिल भारतीय युद्ध स्मारक भी कहा जाता है। और यह इतिहासिक धरोहर इम्पीरियल वॉर ग्रेव कमीशन (IWGC) का भी एक भाग है। जिसकी स्थापना प्रथम विश्व युद्ध में मारे गये सैनिको के लिये की गयी थी। 1920 के दशक तक,पुरानी दिल्ली रेलवे स्टेशन पूरे शहर का एकमात्र रेलवे स्टेशन हुआ करता था। आगरा-दिल्ली रेलवे लाइन उस समय लुटियन की दिल्ली और किंग्सवे यानी राजाओं के गुजरने का रास्ता, जिसे अब हिन्दी में राजपथ नाम दे दिया गया है। पर स्थित वर्तमान इण्डिया गेट के निर्माण-स्थल से होकर गुजरती थी। आखिरकार इस रेलवे लाइन को यमुना नदी के पास स्थानान्तरित कर दिया गया। इसके बाद सन् 1924 में जब यह मार्ग प्रारम्भ हुआ तब कहीं जाकर स्मारक स्थल का निर्माण शुरू हो सका। 42 मीटर ऊँचे इण्डिया गेट से होकर कई महत्वपूर्ण मार्ग निकलते हैं। पहले इण्डिया गेट के आसपास होकर काफी यातायात गुजरता था। परन्तु अब इसे भारी वाहनों के लिये बन्द कर दिया गया है। शाम के समय जब स्मारक को प्रकाशित किया जाता है तब इण्डिया गेट के चारो ओर एवं राजपथ के दोनों ओर घास के मैदानों में लोगों की भारी भीड़ एकत्र हो जाती है। 625 मीटर के व्यास में स्थित इण्डिया गेट का षट्भुजीय क्षेत्र 306,000 वर्ग मीटर के क्षेत्रफल में फैला है।

More Related Blogs

Back To Top