चित्रकूट :- पर्यटन स्थल

१. चित्रकूट
२.इतिहास
३. प्रमुख आकर्षण केंद्र
४.आवागमन

Posted 8 months ago in Places and Regions.

User Image
riya Rathore
233 Friends
1842 Views
44 Unique Visitors
माना जाता है कि भगवान राम ने सीता और लक्ष्मण के साथ अपने वनवास के चौदह वर्षो में ग्यारह वर्ष चित्रकूट में ही बिताए थे। इसी स्थान पर ऋषि अत्रि और सती अनसुइया ने ध्यान लगाया था। ब्रह्मा, विष्णु और महेश ने चित्रकूट में ही सती अनसुइया के घर जन्म लिया था।चित्रकूट धाम मंदाकिनी नदी के किनारे पर बसा भारत के सबसे प्राचीन तीर्थस्थलों में एक है। उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में 38.2 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र में फैला शांत और सुन्दर चित्रकूट प्रकृति और ईश्वर की अनुपम देन है। चारों ओर से विन्ध्य पर्वत श्रृंखलाओं और वनों से घिरे चित्रकूट को अनेक आश्चर्यो की पहाड़ी कहा जाता है। मंदाकिनी नदी के किनार बने अनेक घाट और मंदिर में पूरे साल श्रद्धालुओं का आना-जाना लगा रहता है
इस पवित्र पर्वत का काफी धार्मिक महत्व है। श्रद्धालु कामदगिरि पर्वत की 5 किलोमीटर की परिक्रमा कर अपनी मनोकामनाएं पूर्ण होने की कामना करते हैं। जंगलों से घिरे इस पर्वत के तल पर अनेक मंदिर बने हुए हैं। चित्रकूट के लोकप्रिय कामतानाथ और भरत मिलाप मंदिर भी यहीं स्थित है।रामघाट
संपादित करें

राम घाट वह घाट है जहाँ प्रभु राम नित्य स्नान किया करते थे l इसी घाट पर राम भारत मिलाप मंदिर है और इसी घाट पर गोस्वामी तुलसीदास जी की प्रतिमा भी है l मंदाकिनी नदी के तट पर बने रामघाट में अनेक धार्मिक क्रियाकलाप चलते रहते हैं। घाट में गेरूआ वस्त्र धारण किए साधु-सन्तों को भजन और कीर्तन करते देख बहुत अच्छा महसूस होता है। शाम को होने वाली यहां की आरती मन को काफी सुकून पहुंचाती है।

जानकी कुण्ड
संपादित करें
रामघाट से 2 किलोमीटर की दूरी पर मंदाकिनी नदी के किनार जानकी कुण्ड स्थित है। जनक पुत्री होने के कारण सीता को जानकी कहा जाता था। माना जाता है कि जानकी यहां स्नान करती थीं। जानकी कुण्ड के समीप ही राम जानकी रघुवीर मंदिर और संकट मोचन मंदिर है।

स्फटिक शिला
संपादित करें
जानकी कुण्ड से कुछ दूरी पर मंदाकिनी नदी के किनार ही यह शिला स्थित है। माना जाता है कि इस शिला पर सीता के पैरों के निशान मुद्रित हैं। कहा जाता है कि जब वह इस शिला पर खड़ी थीं तो जयंत ने काक रूप धारण कर उन्हें चोंच मारी थी। इस शिला पर राम और सीता बैठकर चित्रकूट की सुन्दरता निहारते थे।
अनसुइया अत्रि आश्रम
संपादित करें
स्फटिक शिला से लगभग 4 किलोमीटर की दूरी पर घने वनों से घिरा यह एकान्त आश्रम स्थित है। इस आश्रम में अत्रि मुनी, अनुसुइया, दत्तात्रेयय और दुर्वासा मुनि की प्रतिमा स्थापित हैं।

गुप्त गोदावरी
संपादित करें
नगर से 18 किलोमीटर की दूरी पर गुप्त गोदावरी स्थित हैं। यहां दो गुफाएं हैं। एक गुफा चौड़ी और ऊंची है। प्रवेश द्वार संकरा होने के कारण इसमें आसानी से नहीं घुसा जा सकता। गुफा के अंत में एक छोटा तालाब है जिसे गोदावरी नदी कहा जाता है। दूसरी गुफा लंबी और संकरी है जिससे हमेशा पानी बहता रहता है। कहा जाता है कि इस गुफा के अंत में राम और लक्ष्मण ने दरबार लगाया था।
हनुमान धारा

पहाड़ी के शिखर पर स्थित हनुमान धारा में हनुमान की एक विशाल मूर्ति है। मूर्ति के सामने तालाब में झरने से पानी गिरता है। कहा जाता है कि यह धारा श्रीराम ने लंका दहन से आए हनुमान के आराम के लिए बनवाई थी। पहाड़ी के शिखर पर ही 'सीता रसोई' है। यहां से चित्रकूट का सुन्दर दृष्य देखा जा सकता है।
भरतकूप
कहा जाता है कि भगवान राम के राज्याभिषेक के लिए भरत ने भारत की सभी नदियों से जल एकत्रित कर यहां रखा था। अत्रि मुनि के परामर्श पर भरत ने जल एक कूप में रख दिया था। इसी कूप को भरत कूप के नाम से जाना जाता है। भगवान राम को समर्पित यहां एक मंदिर भी है।
वायु मार्ग
चित्रकूट का नजदीकी विमानस्थल प्रयागराज है। खजुराहो चित्रकूट से 185 किलोमीटर दूर है। चित्रकूट में भी हवाई पट्टी बनकर तैयार है लेकिन यहां से उड़ानें अभी शुरू नहीं हुई हैं। लखनऊ और इलाहाबाद हवाई अड्डों से भी चित्रकूट पहुंचा जा सकता है। इलाहाबाद और लखनऊ से बस और ट्रेनें लगातार उपलब्ध हैं।

रेल मार्ग
चित्रकूट से 8 किलोमीटर की दूर कर्वी निकटतम रेलवे स्टेशन है। इलाहाबाद, जबलपुर,बांदा, दिल्ली, झांसी, हावड़ा, आगरा,मथुरा, लखनऊ, कानपुर,ग्वालियर,झांसी,रायपुर, कटनी, मुगलसराय,वाराणसी बांदा आदि शहरों से यहां के लिए रेलगाड़ियां चलती हैं। इसके अलावा शिवरामपुर रेलवे स्टेशन पर उतकर भी बसें और टू व्हीलर लिए जा सकते हैं। शिवरामपुर रेलवे स्टेशन की चित्रकूट से दूरी ४ किलोमीटर है।

सड़क मार्ग
चित्रकूट के लिए इलाहाबाद,बांदा, झांसी, महोबा, कानपुर, छतरपुर,सतना, फैजाबाद, लखनऊ, मैहर आदि शहरों से नियमित बस सेवाएं हैं। दिल्ली से भी चित्रकूट के लिए बस सेवा उपलब्ध है। शिवरामपुर से भी बसें और टू व्हीलर उपलब्ध हैं यहां से चित्रकूट की दूरी ४ किलोमीटर है।
Tags: Chitrakoot,

More Related Blogs

Article Picture
riya Rathore 6 months ago 48 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 28 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 2 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 2 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 2 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 3 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 2 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 212 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 127 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 1 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 2 Views
Article Picture
riya Rathore 6 months ago 5 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 266 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 250 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 165 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 204 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 136 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 149 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 127 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 51 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 163 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 156 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 183 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 140 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 112 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 131 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 123 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 157 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 145 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 125 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 159 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 154 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 216 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 126 Views
Article Picture
riya Rathore 7 months ago 96 Views
Article Picture
riya Rathore 8 months ago 793 Views
Article Picture
riya Rathore 8 months ago 378 Views
Article Picture
riya Rathore 8 months ago 1736 Views
Back To Top