Aishwarya rai (film actress)

Aishwarya rai बच्चन (जन्म: 1 नवम्बर 1973) ऐश के नाम से भी मशहूर, भारतीय सिनेमा की एक प्रमुख अभिनेत्री हैं

Posted 9 months ago in Entertainment.

User Image
Poonam Namdev
28 Friends
2 Views
38 Unique Visitors
अपनी 12 वीं कक्षा के दौरान, उनके अंग्रेजी प्रोफेसर ने उन्हें एक फैशन पत्रिका के लिए फोटोशूट करने के लिए कहा था, क्योंकि वह एक फोटोजॉर्निस्ट भी थीं, फोटोशूट के बाद, उन्हें मॉडलिंग के लिए ऑफर आने शुरू हो गए, परन्तु उन्होंने मॉडलिंग करने से इनकार कर दिया क्योंकि वह अपनी पढ़ाई पर ध्यान केंद्रित करना चाहती थीं। लेकिन, अपनी 12 वीं की परीक्षा के बाद, उन्हें ग्लैमर वर्ल्ड ने अपनी तरफ आकर्षित किया और उन्होंने लार्क (विदेशी कंपनी) में मॉडलिंग करने का फ़ैसला किया। फिल्मजगत में कार्य करने से पहले उन्होंने एक टीवी धारावाहिक में आवाज-डबिंग का कार्य करने की कोशिश की, परन्तु उन्हें अस्वीकृत कर दिया गया। 1993 में उन्होंने आमिर खान और महिमा चौधरी के साथ एक पेप्सी विज्ञापन किया, इसके बाद वह सुर्ख़ियों में आ गई। 19 नवंबर,1994 में ऐश्वर्या राय ने दक्षिण अफ्रीका में आयोजित मिस वर्ल्ड प्रतियोगिता के ख़िताब को जीता। 1994 के मिस इंडिया ख़िताब के लिए ऐश्वर्या रे सबकी पहली पसंद थी। लेकिन, यह ख़िताब वह सुष्मिता सेन से हर गई, क्योंकि ऐश्वर्या, सुष्मिता की अपेक्षा कम वाक्-पटुक थीं। वर्ष 2002 में आई फिल्म देवदास के एक गीत ” डोला रे डोला” के फिल्मांकन के दौरान कानों में भारी बालियां पहनने के कारण उनके कानों से रक्तस्राव होने लगा।  2007 में उनकी भव्य शादी में लगभग 6 करोड़ (भारतीय रुपए) की लागत आई थी, जहां उन्होंने 50-कैरेट की सॉलिटेयर सगाई की अंगूठी पहनी थी। जिसकी कीमत 50 लाख (भारतीय रुपए) थी और लगभग 15 किलोग्राम सोना उन्हें भेंट स्वरूप दिया गया था। 1998 में रणबीर कपूर ने ऐश्वर्या के साथ एक तस्वीर खिंचवाईं थी, उसके 18 साल बाद, 2016 में, उन्होंने फिल्म ‘ए दिल है मुश्किल’ में एक साथ काम किया। 13-14 की उम्र तक उन्हें समझ में ही नहीं आता था कि लोग उन्हें क्यों घूर रहे हैं क्योंकि उन्हें अपनी सुंदरता का गुमान नहीं था। स्कूल में वार्षिकोत्सव के दौरान टीचर उन्हें परी की भूमिका ही निभाने को कहती थी। पढ़ाई में वे हमेशा अव्वल रही और उनकी ख्वाहिश डॉक्टर बनने की थी, लेकिन स्कूल ऑफ आर्किटेक्चर में दाखिला उन्हें पहले मिल गया। बचपन से अपनी माँ के साथ घूमना और मंदिर जाना ऐश की दिनचर्या में शामिल रहा है।

More Related Blogs

Article Picture
Poonam Namdev 8 months ago 6 Views
Article Picture
Poonam Namdev 9 months ago 3 Views
Article Picture
Poonam Namdev 9 months ago 1 Views
Article Picture
Poonam Namdev 9 months ago 5 Views
Article Picture
Poonam Namdev 9 months ago 3 Views
Article Picture
Poonam Namdev 9 months ago 3 Views
Article Picture
Poonam Namdev 9 months ago 2 Views
Article Picture
Poonam Namdev 9 months ago 3 Views
Back To Top