Kaaragil Yuddh

Jab Bhaarateey Khuphiya Ejensee Ro Ne Taip Kiya Tha Janaral Musharraph Ka Phone

Posted 2 months ago in .

User Image
Raj Singh
113 Friends
1 Views
1 Unique Visitors
कारगिल युद्ध के दौरान भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ ने

तत्कालीन सेनाध्यक्ष जनरल परवेज मुशर्रफ के फोन को टैप कर पूरी दुनिया के सामने पाक की पोल खोल दी थी। इससे

विश्व की महाशक्तियों को यह पता चला कि कारगिल की ऊंची चोटियों पर मुजाहिदीन के वेश में घुसपैठिये नहीं बल्कि पाक

सेना की एलीट फोर्स है। इस घटना को याद कर तत्कालीन भारतीय सेनाध्यक्ष जनरल वीपी मलिक ने बीबीसी को बताया,

''26 मई 1999 को रात साढ़े नौ बजे मेरे सिक्योर इंटरनल

एक्सचेंज फोन की घंटी बजी। दूसरे छोर पर भारत की खुफिया एजेंसी रॉ के सचिव अरविंद दवे थे। उन्होंने बताया कि

उनके लोगों ने पाकिस्तान के दो चोटी के जनरलों के बीच एक बातचीत को रिकार्ड किया है।उन्होंने बताया कि उनमें से एक

जनरल चीन की राजधानी बीजिंग से बातचीत में शामिल था। फिर उन्होंने उस बातचीत के अंश पढ़ कर जनरल मलिक को

सुनाए और कहा कि इसमें छिपी जानकारी हमारे लिए

महत्वपूर्ण हो सकती है। 

जनरल मलिक ने उस फोन-कॉल को याद करते हुए कहा,

'दरअसल दवे ये फोन डायरेक्टर जनरल मिलिट्री इंटेलिजेंस को करना चाहते थे, लेकिन उनके सचिव ने ये फोन गलती से

मुझे मिला दिया। जब उन्हें पता चला कि डीजीएमआई की

जगह मैं फोन पर हूं तो वो बहुत शर्मिंदा हुए। मैंने उनसे कहा

कि वो इस फोन बातचीत की ट्रांस- स्क्रिप्ट तुरंत मुझे भेजें।'

जनरल मलिक ने आगे कहा, 'पूरी ट्रांस- स्क्रिप्ट पढ़ने के बाद मैंने अरविंद दवे को फोन मिला कर कहा मेरा मानना है कि ये

बातचीत जनरल मुशर्रफ जो कि इस समय चीन में हैं और एक

बहुत सीनियर जनरल के बीच में है। मैंने दवे को सलाह दी कि आप इन टेलिफोन नंबरों की रिकार्डिंग करना जारी रखें, जो कि

उन्होंने की।'

पढ़िए मुशर्रफ और पाक सेना के जनरल अजीज खान की पूरी बातचीत

अजीज: यह पाकिस्तान है। हमें कमरा नंबर 83315 में

कनेक्ट कीजिए।
मुशर्रफ: हेलो अजीज


अजीज: ग्राउंड सिचुएशन ओके। कोई बदलाव नहीं। उनके

एक एमआई 17 हेलीकॉप्टर को गिराया गया है। क्या आपने कल की खबर सुनी कि मियां साहेब ने अपने भारतीय समकक्ष

से बात की है। उन्होंने उनसे कहा कि मामले को तुल आपलोग दे रहे हैं। वायुसेना का इस्तेमाल करने से पहले आपको कुछ

और इंतजार करना चाहिए था। उन्होंने उनसे कहा कि हम तनाव को कम करने के लिए विदेश मंत्री सरताज अजीज को

दिल्ली भेज सकते हैं।
Tags: Kaaragil Yuddh, ,

More Related Blogs

Article Picture
Raj Singh 2 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 2 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 2 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 2 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 2 months ago 2 Views
Article Picture
Raj Singh 2 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 3 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 3 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 2 Views
Back To Top