Lok Sabha Election Results 2019: लोकसभा चुनाव के परिणाम का काउंटडाउन शुरू, आज आएंगे नतीजे

Lok Sabha Election Results 2019: आज यानी गुरुवार का दिन समस्त देशवासियों और देश की तमाम राजनीतिक पार्टियों (Political Parties) के लिए बेहद खास है,

Posted 5 months ago in News and Politics.

User Image
Raj Singh
113 Friends
1 Views
1 Unique Visitors
Lok Sabha Election Results 2019: आज यानी गुरुवार का दिन समस्त देशवासियों और देश की तमाम राजनीतिक पार्टियों (Political Parties) के लिए बेहद खास है, क्योंकि आज यह साफ हो जाएगा कि विश्व के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश की भावी सियासी तस्वीर क्या होगी? इसके साथ ही इस बात से भी पर्दा उठ जाएगा कि देश के करोड़ों मतदाताओं ने अगले पांच सालों के लिए किसे अपने प्रधानमंत्री (Prime Minister) के तौर पर चुना है. लोकसभा चुनाव के परिणामों (Lok Sabha Election Result 2019) का बेसब्री से इंतजार कर रही देश की तमाम जनता और राजनीतिक पार्टियों का इंतजार आज आखिरकार खत्म हो ही जाएगा. बता दें कि आज सुबह 8 बजे से लोकसभा की 542 संसदीय सीटों के लिए मतगणना शुरु हो रही है.इसके अलावा देश के चार राज्यों आंध्र प्रदेश, ओडिशा, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश विधानसभा सीटों के लिए भी आज ही वोटों की गिनती की जानी है.

ऐसा पहला बार हो रहा है जब ईवीएम गणना के साथ मतदाता सत्यापित पेपर ऑडिट पर्चियों (वीवीपैट) का मिलान भी किया जा रहा है. इसकी की वजह से देर शाम तक चुनाव के परिणाम आने की संभावना है. लोकसभा चुनाव के नतीजे सामने आते ही यह साफ हो जाएगा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बनाम राहुल गांधी और विपक्ष के बीच छिड़ी इस चुनावी जंग में जीत का ताज किसके सिर पर सजेगा?

सुरक्षा के चाक-चौबंद इंतजाम

चुनाव के परिणाम अनुकूल न आने पर विपक्षी नेताओं के हिंसा के भड़काऊ भाषणों को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गंभीरता से लेते हुए सभी राज्यों को सतर्क रहने का निर्देश दिया है. गृह मंत्रालय ने देश के सभी राज्यों के मुख्य सचिवों और पुलिस महानिदेशकों (डीजीपी) को पत्र भेजकर हिंसा की आंशकाओं के मद्देनजर सतर्क रहने को कहा है. इसके साथ ही मतगणना के दौरान डीजीपी और मुख्य सचिवों से मतगणना केंद्रों के आस-पास सुरक्षा के चाक-चौबंद इतंजाम करने को कहा है, ताकि किसी भी तरह की अप्रिय घटना को रोका जा सके. 'खूनी धमकी' पर बिहार में अलर्ट, एडीजी कुंदन बोले- हिंसा हुई तो उपेंद्र कुशवाहा होंगे जिम्मेवार

EVM और VVPAT पर्ची का मिलान

17वीं लोकसभा के गठन के लिए देशभर में कराए गए चुनाव में पहली बार इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों यानी ईवीएम के परिणामों का मिलान पेपर ट्रेल मशीनों से निकलने वाली पर्चियों यानी वीवीपैट पर्ची से किया जाएगा. EVM और VVPAT पर्चियों का मिलान हर विधानसभा क्षेत्र में पांच मतदान केंद्रों पर होगा.

सबसे पहले डाक मतपत्रों की गिनती

वोटों की गिनती सुबह 8 बजे से हो रही है, लेकिन इस प्रक्रिया के दौरान सबसे पहले डाक मतपत्रों की गिनती की जाएगी. बता दें कि देशभर में संसदीय क्षेत्र से बाहर ड्यूटी पर तैनात मतदाताओं यानी सर्विस वोटरों की संख्या करीब 18 लाख है, जिनमें सशस्त्र बल, केंद्रीय पुलिस बल और राज्य पुलिस बल के जवान शामिल हैं. इसके अलावा विदेश में भारतीय दूतावासों में पदस्थ राजनयिक और कर्मचारी भी सर्विस वोटरों की सूचि में आते हैं.

उत्तर प्रदेश की 80 सीटों पर टिकी निगाहें

आज हो रही मतगणना पर देश भर की निगाहें उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों पर टिकी हुई हैं. कहा जाता है कि दिल्ली में प्रधानमंत्री तक की कुर्सी का रास्ता उत्तर प्रदेश से होकर गुजरता है. उत्तर प्रदेश पर इसलिए भी लोगों की निगाहें टिकी हुई हैं, क्योंकि वाराणसी संसदीय क्षेत्र से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रायबरेली से यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, अमेठी से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, मैनपुरी से समाजवादी पार्टी के संस्थापक मुलायम सिंह यादव, आजमगढ़ से सपा अध्यक्ष सोनिया गांधी और लखनऊ से गृह मंत्री राजनाथ सिंह की किस्मत का फैसला होने जा रहा है.

वेल्लोर सीट पर रद्द हुआ था चुनाव

देश की कुल 543 लोकसभा सीटों में से 542 सीटों पर चुनाव संपन्न हुए हैं, जबकि वेल्लोर लोकसभा सीट पर चुनाव आयोग ने चुनाव रद्द कर दिया था. इस सीट पर धनबल का अत्यधिक उपयोग किए जाने और सुरक्षा कारणों के आधार पर चुनाव रद्द किया गया था. हालांकि इस सीट पर चुनाव के लिए नई तारीख का ऐलान नहीं किया गया है. विपक्ष को बड़ा झटका, VVPAT पर चुनाव आयोग ने नहीं बदला फैसला, येचुरी बोले- बिगड़ सकती है कानून व्यवस्था

8000 से अधिक प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला

लोकसभा की 543 सीटों में से कुल 542 सीटों पर हुए मतदान में 8000 से अधिक प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला आज हो जाएगा. बता दें कि कुल सात चरणों में हुए मतदान में देश के 90.99. करोड़ मतदाताओं में से करीब 67.11 फीसदी लोगों ने अपने मताधिकार का इस्तेमाल किया है.

सात चरणों में संपन्न हुआ लोकसभा चुनाव

17वीं लोकसभा के गठन के लिए देशभर में सात चरणों में चुनाव संपन्न कराए गए. 11 अप्रैल 2019 को पहले चरण के लिए वोट डाले गए तो वहीं 19 मई को आखिरी चरण का मतदान संपन्न हुआ. पहले चरण में कुल 91 सीटों के लिए वोट डाले गए. दूसरे चरण में 97, तीसरे चरण में 117, चौथे चरण में 71, पांचवे चरण में 51, छठे चरण में 59 और सातवें चरण में 59 लोकसभा सीटों के वोट डाले गए.

More Related Blogs

Article Picture
Raj Singh 3 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 4 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 4 months ago 3 Views
Article Picture
Raj Singh 4 months ago 3 Views
Article Picture
Raj Singh 4 months ago 2 Views
Back To Top