Priksha से ghabrana keisa

Priksha kya Sachmuch itna daravana sabdh है की उसे सुनते ही pasine छुटने लगे मन ghabrane लगे or फिर लगे

Posted 9 months ago in Education.

User Image
Poonam Namdev
28 Friends
2 Views
19 Unique Visitors
इन सब तनाव की जड़ क्या है . ये तनाव हम खुद ही पैदा करते है इसके लिए कोई और जिम्मेवार नहीं है . इसके मुख्य रूप से दो कारण है – पहला  हमारी सोच .  समस्या की जड़ ओर कंही नही है बल्कि हमारे अंदर ही है . हमारी सोच ही इन सबके के लिए जिम्मेवार है . priksha को कभी भी bhojh की तरह मत समझो ये सबसे आम बात है जो हमेशा टीचर or peiritans kahete है की साल भर अगर थोड़ा padhoge तो priksha देर सारा एक साथ पढने का preshar नहीं होगा यह बात Bakai faydemand haiएक थाली में केसर में गंगाजल मिलाकर बनी स्याही से स्वस्तिक का चिह्न बनाएं। उस पर नैवेद्य चढ़ाएं। सामने शुद्ध घी का दीपक जला कर रखें। मां सरस्वती की स्तुति करें। इसके बाद थाली में जल मिलाकर गिलास में डालकर पी लें। ऐसा करने से शिक्षा के क्षेत्र में पूर्ण उन्नति होती है। 

More Related Blogs

Article Picture
Poonam Namdev 9 months ago 6 Views
Article Picture
Poonam Namdev 9 months ago 3 Views
Article Picture
Poonam Namdev 9 months ago 1 Views
Article Picture
Poonam Namdev 9 months ago 5 Views
Article Picture
Poonam Namdev 10 months ago 3 Views
Article Picture
Poonam Namdev 10 months ago 3 Views
Article Picture
Poonam Namdev 10 months ago 2 Views
Article Picture
Poonam Namdev 10 months ago 3 Views
Back To Top