SBI के इस अकाउंट में मिलेगा डबल ब्याज, जानें इसके बारे में

SBI में इस अकाउंट को खुलवाने से दो हफ्ते में फायदा मिलेगा. इससे पहला फायदा ये मिलेगा की आपका भविष्य सुरक्षित होगा और दूसरा इसमें ब्याज ज्यादा मिलता है.

Posted 7 months ago in Live Style.

User Image
Pawan Malviya
1303 Friends
5 Views
6 Unique Visitors
देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) के पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) के एक ही अकाउंट में दो फायदे मिलते हैं. पहला आपका भविष्य सुरक्षित होता है और दूसरा इसमें सेविंग अकाउंट से दूना ब्याज ज्यादा मिलता है. वहीं निवेश की रकम पर टैक्स छूट, मैच्योरिटी पर टैक्स-फ्री रिटर्न और सरकार का हाथ, इस अकाउंट की खासियत है. आइए जानते हैं एसबीआई में आप पीपीएफ अकाउंट कैसे खोल सकते हैं.
मोदी सरकार की किसानों के लिए स्कीम तैयार! खेती के लिए देगी रकम
अकाउंट खोलने के लिए क्या है योग्यता- PPF अकाउंट किसी पोस्ट ऑफिस या बैंक में अपने नाम से और नाबालिग की तरफ से किसी और व्यक्ति द्वारा खोला जा सकता है. हालांकि, नियमों के अनुसार, एक हिंदू अविभाजित परिवार (HUF) के नाम पर एक पीपीएफ खाता खोला नहीं जा सकता है. इसके अलावा, एक संयुक्त खाता भी नहीं खोला जा सकता है.क्या है निवेश की सीमा- PPF अकाउंट में आप मिनिमम 500 रुपये जमा कर सकते हैं. साथ ही इसमें आप साल में अधिकतम 1,50,000 रुपये तक जमा कर सकते हैं. यह राशि एक वर्ष में 12 किस्तों में या एकमुश्त जमा की जा सकती है
आप भी अपने बच्चे का SBI में खुलवा सकते हैं अकाउंट, जानिए इसके बारे में सबकुछ
योजना की अवधि- PPF अकाउंट की परिपक्वता अवधि 15 वर्ष है, लेकिन मैच्योरिटी के एक वर्ष के भीतर प्रत्येक के 5 या एक से अधिक ब्लॉक के लिए बढ़ाया जा सकता है.ब्याज दर- PPF अकाउंट पर ब्याज दर तिमाही आधार पर सरकार द्वारा निर्धारित की जाती है. फिलहाल इसमें ब्याज दर 8 फीसदी सालान है जो कि 1 जनवरी 2019 से प्रभावी है.लोन और निकासी- पीपीएफ अकाउंट से लोन और निकासी, खाते की उम्र के साथ-साथ निर्दिष्ट तिथि और शेष राशि को देखकर दी जाती है. आम तौर पर एक पीपीएफ अकाउंट खोलने के बाद तीसरे वर्ष से लोन का फायदा उठाया जा सकता है जबकि अकाउंट खोलने के वर्ष से सातवें वर्ष से प्रत्येक वर्ष निकासी की अनुमति है.ये भी पढ़ें: SBI ने ग्राहकों को किया अलर्ट! किसी भी बैंक से आए कॉल, तो ऐसे दें जबावनामांकन- नामांकन सुविधा पीपीएफ अकाउंट खोलने के समय और एक या अधिक व्यक्तियों के नाम पर इसे खोलने के समय भी उपलब्ध है.अकाउंट ट्रांसफर- PPF अकाउंट को एक ब्रांच से दूसरे ब्रांच में या पोस्ट ऑफिस से बैंक या किसी बैंक से दूसरे बैंक में स्थानांतरित किया जा सकता है. इस सर्विस के लिए कोई चार्ज नहीं लिया जाता है.टैक्स बेनिफिट- एक पीपीएफ अकाउंट में जमा पैसे आयकर अधिनियम की 80C की आय से कटौती के लिए अर्हता प्राप्त करते हैं. यहां तक कि ब्याज आय पूरी तरह टैक्स मुक्त है, जबकि परिपक्वता राशि पर कोई टैक्स नहीं लगाया नहीं जाता है. इस प्रकार, अपने छूट निवेश, छूट रिटर्न, छूट परिपक्वता या निकासी लाभ के साथ, पीपीएफ आज भारत में सबसे अच्छा टैक्स बचत निवेश विकल्प बन गया है.
 SBI के इस खास अकाउंट में मिलेगा FD जितना ब्याज, जानिए कैसे खोल सकते हैं ये खाता
समय पूर्व निकासी- लागू नियमों के तहत पीपीएफ अकाउंट से समयपूर्व निकासी की जा सकती है.समय पूर्व बंद- सामान्य मामलों में 15 साल से पहले एक पीपीएफ अकाउंट का समयपूर्व बंद होने की अनुमति नहीं है. हालांकि, कुछ निर्दिष्ट आधारों जैसे उच्च शिक्षा आवश्यकताओं या चिकित्सा आपात स्थिति पर एक पीपीएफ अकाउंट समय-समय पर बंद किया जा सकता है, लेकिन अकाउंट को अनिवार्यता के मामले में 5 साल से पहले बंद नहीं किया जा सकता है.

More Related Blogs

Article Picture
Pawan Malviya 17 days ago 19 Views
Back To Top