raam maadhav bole

kaangres aur nch ne kashmeer mein boya aatank ka beej

Posted 4 months ago in News and Politics.

User Image
Raj Singh
113 Friends
3 Views
4 Unique Visitors
नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले आर्टिकल

370 को लेकर संसद में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के बयान

के बाद इसपर बयानबाजी तेज हो गई है। केंद्रीय मंत्री जितेंद्र

सिंह ने कहा कि पंडित नेहरू ने भी बोला था कि ये धाराएं

घिसते-घिसते जाएंगी। वहीं, आर्टिकल 370 को लेकर बीजेपी

के राष्ट्रीय महासचिव राम माधव का भी बयान आया है।

उन्होंने कश्मीर की समस्या के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार

ठहराया है।

राम माधव 

आर्टिकल 370 को हटाया जाना चाहिए

राम माधव ने कहा कि जहां तक ​​आर्टिकल 370 की बात है,

हमारी वैचारिक प्रतिबद्धता जगजाहिर है। उन्होंने कहा कि

धारा 370 को हटाया जाना चाहिए, हम शुरू से ही इसके

खिलाफ हैं।

राम माधव ने कहा कि अनुच्छेद 370 को हटाने के लिए

सरकार उचित समय पर उपयुक्त कदम उठाएगी। उन्होंने कहा

कि हमारी सरकार कश्मीर की हर समस्या को सुलझाने के

लिए प्रतिबद्ध है और हम उसी दिशा में कदम बढ़ा रहे हैं। राम

माधव ने कहा कि जब इसे लाया गया था तो तत्कालीन पीएम

नेहरू ने खुद कहा था कि यह अस्थायी है, जो धीरे-धीरे खत्म

हो जाएगा, यहां तक ​​कि नेहरू भी यही चाहते थे।

बीजेपी नेता 

कश्मीर की हर समस्या के लिए कांग्रेस जिम्मेदार- बीजेपी नेता

कांग्रेस ने कश्मीर में बिगड़े हालात के लिए बीजेपी और

पीडीपी गठबंधन को जिम्मेदार ठहराया था, इसपर प्रतिक्रिया

देते हुए राम माधव ने कहा कि गठबंधन सरकार 2.5 साल के

लिए सत्ता में थी। ये कांग्रेस है जो अपने गठबंधन के माध्यम

से दशकों तक शासन करती रही। उन्होंने कहा कि आज

कश्मीर में दिखाई देने वाली हर समस्या के लिए कांग्रेस

जिम्मेदार है। राम माधव ने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि

कश्मीर में कांग्रेस और NC ने आतंक का बीज बोया।

आर्टिकल 370 

आर्टिकल 370 को लेकर शाह ने बोला था कांग्रेस पर हमला

राम माधव ने कहा कि हालांकि, इस कार्रवाई में कुछ

प्रक्रियाओं से गुजरना है तो इसमें थोड़ा वक्त लग सकता है।

गृहमंत्री अमित शाह के बयान का समर्थन करते हुए राम

माधव ने कश्मीर की समस्या के लिए जवाहरलाल नेहरू की

नीतियों को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा, गृहमंत्री ने जो

कुछ भी कहा वह सच है, कश्मीर की समस्या पंडित नेहरू के

नेतृत्व वाली आजादी के बाद की पहली सरकार की देन है।

बता दें कि अमित शाह ने लोकसभा में बोलते हुए कहा था कि

जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाला आर्टिकल

370 एक अस्थाई व्यवस्था है।

More Related Blogs

Article Picture
Raj Singh 3 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 4 Views
Article Picture
Raj Singh 3 months ago 1 Views
Article Picture
Raj Singh 4 months ago 3 Views
Article Picture
Raj Singh 4 months ago 2 Views
Back To Top